ईसीबी कार्मिकों ने सामूहिक अवकाश लेकर किया प्रदर्शन

राजस्थान अभियांत्रिकी महाविद्यालय शिक्षक संघ रेक्टा, बीकानेर इकाई व अशैक्षणिक कर्मचारी संगठन अभियांत्रिकी महाविद्यालय बीकानेर के सदस्यों ने गुरुवार को सामूहिक अवकाश रखा।

बीकानेर. राजस्थान अभियांत्रिकी महाविद्यालय शिक्षक संघ रेक्टा, बीकानेर इकाई व अशैक्षणिक कर्मचारी संगठन अभियांत्रिकी महाविद्यालय बीकानेर के सदस्यों ने गुरुवार को सामूहिक अवकाश रखा। इस दौरान कार्मिकों ने जिला कलेक्टर के कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन जिला कलेक्टर को सौंपा। रेक्टा संरक्षक डॉ. ओम प्रकाश जाखड़ ने बताया कि ज्ञापन में अभियांत्रिकी महाविद्यालय बीकानेर सोसाइटी के अंतर्गत संचालित कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलोजी बीकानेर को बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय का संघटक महाविद्यालय बना दिया गया जबकि ईसीबी सबसे बड़ा महाविद्यालय होने व सभी मापदंडों को पूर्ण करने के बावजूद भी इसे संघटक महाविद्यालय नहीं बनाया गया। राजस्थान में एक भी पूर्ण रूप से सरकारी अभियांत्रिकी महाविद्यालय संचालित नहीं है जिससे अन्य राज्यों की तुलना में राजस्थान में संचालित उच्च तकनीकी शिक्षा के छात्रों तथा कर्मचारियों के साथ भेदभाव हो रहा है।

अशैक्षणिक कर्मचारी संगठन अभियांत्रिकी महाविद्यालय बीकानेर के दिनेश पारीक ने बताया कि पिछले तीन महीनों का वेतन नहीं मिलने के कारण सभी कर्मचारियों में रोष है। प्रवक्ता डॉ. नवीन शर्मा ने बताया कि 16 दिसम्बर को समस्त शैक्षणिक व अशैक्षणिक कर्मचारी अपने सभी अतिरिक्त प्रसाशनिक दायित्वों से इस्तीफ ा प्राचार्य ईसीबी को सौपेंगे। इस दौरान डॉ. मनोज कुड़ी, डॉ. शौकत अली, पवन कौशिक, गरिमा प्रजापत, डॉ. शिवांगी बिस्सा, डॉ. संजय तेजस्वी, डॉ. महेंद्र भादू, अजय चौधरी, डॉ. प्रीती नरुका आदि भी उपस्थित रहे।

Atul Acharya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned