शिक्षा विभाग की चिंता... कहीं छात्राएं दूर न हो जाएं स्कूल से

शिक्षा विभाग की चिंता... कहीं छात्राएं दूर न हो जाएं स्कूल से

 

By: Atul Acharya

Published: 21 Jun 2021, 08:16 PM IST

-बृजमोहन आचार्य

बीकानेर . कोरोना महामारी की वजह से लगातार दूसरे सत्र में स्कूलों में विद्यार्थियों को नहीं बुलाने का असर अब बालिका शिक्षा पर पडऩे की आशंका पैदा हो गई है। शिक्षा विभाग का मानना है कि हालात जब भी सामान्य होंगे पूर्व में सरकारी स्कूलों से जुड़ी शतप्रतिशत छात्राओं का स्कूल आगमन होने पर संशय है। एेसे में शिक्षा निदेशायल ने छात्राओं को स्कूलों से जोड़े रखने के लिए साइकिल खरीद करने समेत अन्य बालिकाओं से जुड़ी योजनाओं पर काम तेज कर दिया है। राज्य सरकार आठवीं उत्तीर्ण कर नौवीं कक्षा में आने वाली छात्राओं को साइकिल देती है। पिछले सत्र में स्कूल खुले नहीं थे, इस सत्र में भी अभी स्कूल कब खोले जाएंगे यह तय नहीं हुआ है। फिर भी शिक्षा निदेशालय ने सात लाख छात्राओं के लिए साइकिल खरीद कर रहा है। इसका यह फायदा होगा कि अभिभावक छात्राओं को आगे की पढ़ाई जारी रखने के लिए तैयार हो जाएंगे। अन्यथा पिछले सत्र में आठवीं पास कर इस बार कक्षा नवीं में हुई छात्राओं में से दूर-दराज के गांवों की छात्राएं स्कूल से विमुख हो जाएगी।
अभी स्कूल खुलते ही देने की तैयारी
गत शिक्षा सत्र में करीब साढ़े तीन लाख छात्राएं और चालू शिक्षा सत्र में भी करीब इतनी ही छात्राओं को साइकिल अभी स्कूल खुलते ही देने की तैयारी है। शिक्षा निदेशालय स्तर पर कार्रवाई भी शुरू कर दी है। निदेशालय ने सरकार को पत्र भेजकर गाइड लाइन मांगी है। इस बार अधिकांश बजट कोरोना में लगने से सरकार स्तर पर ही साइकिल खरीद का फैसला होना है।


पहले साइकिल की जगह नकद राशि
बालिकाओं को स्कूल से जोडऩे के लिए 2014 में साइकिल देने की योजना शुरू की गई थी। उस वक्त साइकिल न देकर नकद राशि दी जाती है। बाद में नकद राशि बंद कर साइकिल खरीद कर दी जाने लगी। जो अभी भी जारी है।

अब पोशाक देने की भी तैयारी
साइकिल, मिड-डे-मिल देने के बाद अब सरकार ने निशुल्क पोशाक देने की भी योजना बनाई है। हालांकि अभी तक यह तय नहीं हो पाया है कि पोशाक किस रंग की होगी या फिर कब तक देंगे। सरकार ने निशुल्क पोशाक देने की घोषणा जरूर कर दी है।


छात्रा संख्या और बढ़ाएंगे
&कोरोना गाइड लाइन के अनुसार विद्यार्थियों को स्कूलों में आना बंद किया हुआ है। बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए पहले से शिक्षा विभाग कई योजनाओं को चला रहा है। स्कूल खुलते ही छात्राओं को साइकिल वितरित की जाएगी। एेसा बालिकाओं को स्कूल से आगे की पढ़ाई के लिए जोड़े रखने के लिए भी किया जा रहा है। प्रयास रहेगा छात्राओं का नामांकन और ज्यादा बढ़े।
- सौरभ स्वामी, शिक्षा निदेशक, बीकानेर


यह मिलेगा छात्राओं को
-आठवीं तक की सभी छात्र-छात्राओं के लिए स्कूल पोशाक मुफ्त मिलेगी।
-कक्षा नवीं में हुई छात्राओं को साइकिल दी जाएगी।
-कक्षा १२वीं तक सभी छात्र-छात्राओं को पाठ्य पुस्तकें मुफ्त।
-प्रवेशिका से बारहवीं बालिकाओं के लिए नि:शुल्क शिक्षा।
-आठवीं तक के छात्र-छात्राओं को पोषाहार का सूखा का राशन।

Atul Acharya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned