विश्व की नामी कम्पनियों की भारतीय बाजार पर नजर

विश्व की नामी कम्पनियों की भारतीय बाजार पर नजर

बीकानेर. विश्व की नामी कम्पनियां अपने व्यापारिक हितों को साधने के लिए भारत के बाजार पर नजर गड़ाए हुए हैं। उन्हें पता है कि देश की इकोनॉमी में इण्डस्ट्री, बिजनेस और प्रोफेसनल्स के संगम का भारत ही महत्वपूर्ण स्थान है। यह बात शुक्रवार को आइसीएआइ के पूर्व अध्यक्ष एवं इण्डीपेन्डेन्ट डायरेक्टर ऑफ यस बैंक से जुड़े सीए उत्तम पी अग्रवाल ने कही। अग्रवाल सेठ तोलाराम बाफना स्कूल में 'इण्डियन इकोनॉमी एज वल्र्ड लीडर एण्ड द रूल ऑफ इण्डस्ट्रीज बिजनेस एण्ड प्रोफेशनल्सÓ विषय पर एक्सपर्ट टॉक में शिरकत करने आए थे।

उन्होंने उद्योगपतियों, चार्टर्ड अकाउन्टेंट्स तथा स्कूल एल्युमिनी को भी सम्बोधित किया। शाला सीईओ डॉ. पीएस वोहरा ने बताया कि बाफना स्कूल के साथ यह कार्यक्रम इन्सटीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउन्टेंट ऑफ इण्डिया, बीकानेर जिला उद्योग संघ, बीकानेर व्यापार उद्योग मण्डल तथा द इन्सटीट्यूट ऑफ कम्पनी सेक्रेट्रीज ऑफ इण्डिया बीकानेर चैप्टर के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।


भारत में कभी नहीं आएगी आर्थिक मंदी
अग्रवाल ने कहा कि भारत की इकोनॉमी की सबसे बड़ी ताकत इसकी जनसंख्या है। एेसे में भारत कभी आर्थिक रूप से कमजोर नहीं होगा। उन्होंने कहा कि हर इंसान को देश के प्रति सकारात्मक सोच रखनी चाहिए। उन्होंने युवाओं को बचत करने के लिए प्रेरित किया। बाफना स्कूल में सम्बोधन के बाद अग्रवाल वाणिज्य संकाय की कक्षा 11वीं तथा 12वीं के विद्यार्थियों से रूबरू भी हुए। कार्यक्रम के दौरान महापौर सुशीला सींवर ने देश की युवा पीढ़ी को इस कार्यक्रम से सीख लेने की बात कही। कार्यक्रम में राजकरण पुगलिया, राजेन्द्र कुमार गोलछा, द्वारका प्रसाद पच्चीसिया, जुगल राठी, सीए सुधीश शर्मा, सीएस नुकुल शर्मा आदि उपस्थित थे।

Atul Acharya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned