फलौदी के बाद अब नोखा उप कारागार से पांच बंदी फरार

पुलिस ने कराई नाकाबंदी, देररात की घटना

By: Jaiprakash

Updated: 21 Apr 2021, 07:03 AM IST

बीकानेर/नोखा। जोधपुर जिले के फलौदी उपकारागार से १६ बंदियों के एक साथ फरार होने की घटना के ठीक १६ दिन बाद ही बीकानेर के नोखा की उप कारागार से मंगलवार रात को पांच बंदी फरार हो गए। बंदियों के फरार होने की सूचना से जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। जेल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बंदियों की धरपकड़ के लिए जिलेभर में नाकाबंदी कराई। फरार होने वालों में तीन हनुमानगढ़, एक हरियाणा व एक नोखा के जसरासर थाना क्षेत्र का है।
जेल प्रशासन के अनुसार पीलीबंगा के वार्ड नंबर २२ निवासी सुरेश कुमार, हनुमानगढ़ के नावा गांव निवासी सलीम खान एवं खारिया गांव निवासी मनदीपसिंह एवं नोखा क्षेत्र के कुचौर आगुणी निवासी रतिराम एवं हरियाणा का सदलपुर निवासी अनिल पंडित मंगलवार रात करीब ढाई बजे नोखा जेल से फरार हो गए। फरार होने वालों में तीन हनुमानगढ़, एक हरियाणा व एक नोखा के जसरासर थाना क्षेत्र का है।


रस्सी के सहारे जेल की दीवार फांदकर भागे
पुलिस के मुताबिक पांचों बंदियों ने फरार होने की पहले से योजना बना रखी थी। सोमवार रात करीब ढाई बजे पांचों बंदी एक रस्सी के सहारे जेल की दोनों दीवारों को फांदकर फरार हो गए। जेल प्रहरी को बंदी के भागने की आशंका हुई तो उन्होंने बैरक को चेक किया, जिसमें पांच बंदी गायब थे। देररात को बंदियों के फरार होने की सूचना पर जेल प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

नाकेबंदी कराई, टीमें गठित
बंदियों के फरार होने की सूचना मिलने पर नोखा सीओ नेमसिंह चौहा, सीआई अरविन्द सिंह शेखावत मय टीम उप कारागार पहुंचे। उन्होंने जेल कर्मचारियों से पूरी घटना की जानकारी ली। बाद में बंदियों की धरपकड़ के लिए पांच टीमें बनाई। सभी टीमों को बंदियों की धरपकड़ के लिए अलग-अलग ठिकानों पर दबिश दी। वहीं हनुमानगढ़ व नागौर जिले में पुलिस को अलर्ट किया। जिलेभर में नाकाबंदी कराई।

Jaiprakash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned