विद्यालयों में रखी खाद्य सामग्री आ सकेगी काम

मिड डे मील आयुक्त ने दिए निर्देश
जिला कलक्टरों को किया अधिकृत

By: Vimal

Published: 31 Mar 2020, 05:35 PM IST


बीकानेर.
लॉक डाउन के चलते विद्यालयों में पड़ी राशन सामग्री अब जरुरत के लिहाज से काम आ सकेगी। इसके लिए मिड डे मील के आयुक्त अभिषेक भगोतिया ने प्रदेश के सभी जिला कलक्टरों को अधिकृत किया है। इसके अनुसार वर्तमान समय में सभी सरकारी विद्यालय बंद है। ऐसी स्थिति में उन विद्यालयों में पोषाहार के लिए उपलब्ध राशन सामग्री है, उसका सदपयोग जिला कलक्टर अपने स्तर पर कर सकेंगे। ताकि उक्त राशन सामग्री जरुरतमंदों को काम का सके।

पत्रिका ने उठाया था मुद्दा
विद्यालयों में पड़ी राशन सामग्री के सदपयोग की मांग को लेकर राजस्थान पत्रिका ने २९ मार्च के अंक में 'विद्यालयों में है छुट्टियां, राशन सामग्री आ सकती है काम' शीर्षक से समाचार प्रकाशित किए थे। शिक्षक संगठनों ने भी माध्यमिक शिक्षा निदेशक को इसके लिए सुझाव भेजे थे। खबर प्रकाशित होने के बाद मिड डे मील आयुक्तालय हरकत में आ गया। सोमवार को आयुक्त ने इस संदर्भ आदेश जारी कर कलक्टरों को अधिकृत कर दिया है।


भारी मात्रा में है सामग्री
प्रदेश की सभी सरकारी विद्यालय इन दिनों बंद है, ऐसे में किसी तरह का पोषाहार नहीं पकता। इस स्थिति में विद्यालयों व मिड डे मील देने वाली संस्थाओं के पास में भारी मात्रा में राशन सामग्री पड़ी है। इसमें गेहूं, चावल, दाल व अन्य सामग्री है। उसका उपयोग वर्तमान में चल रहे लॉकडाउन के बीच जरुतमंदों में वितरित किया जा सकता है।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned