शहर में गणगौर पर्व की धूम, घर-घर हो रहा गणगौर पूजन

गणगौर पूजन उत्सव के दौरान बाबा रामदेव मंदिर के पास विराजित की गई दर्जनों गणगौर प्रतिमाओं का पूजन कर फल की कामना की।

By: dinesh swami

Published: 13 Mar 2018, 01:32 PM IST

बीकानेर . 'ईंट तपे चकलो तपे रूणझुणियो लेÓ, 'गढन हे कोटा सू गवरल उतरीÓ, 'छोड़ गवरल ईसर रो दुपट्टोÓ सरीखे पारम्परिक गणगौर गीतों से छोटा राणीसर बास सोमवार को गुंजायमान रहा। गणगौर पूजन उत्सव के दौरान बाबा रामदेव मंदिर के पास विराजित की गई दर्जनों गणगौर प्रतिमाओं का पूजन कर बालिकाआें-महिलाओं ने मनवांछित फल की कामना की। शहर में अन्य जगह भी गणगौर पूजन किया गया।

 

आयोजन से जुडे गणेश गहलोत के नेतृत्व में गणगौर प्रतिमाओं का पूजन किया गया। पुजारी बाबा के नेतृत्व में गवरजा मण्डली ने पारम्परिक गणगौर के गीत गाए। गीत गायन में मण्डली सदस्य चन्द्रशेखर ओझा, नवरतन, नमामी शंकर, आनन्द छंगाणी, दुर्गादास, भागीरथ, भोली सरदार, घनु ओझा, किशन कुमार, बृजकिशोर, मग्नेश्वर, कैलाश आदि ने सहयोग किया। नगाडे पर संगत दामोदर दास ओझा ने दी। महिलाओं व बालिकाओं ने गणगौर प्रतिमाओं के समक्ष नृत्य किया।

 

भोग लगाया
सिंगियों के चौक में गणगौर पूजन उत्सव मनाया गया। बालिकाओं-महिलाओं ने गणगौर प्रतिमाओं को पानी पिलाने, भोग अर्पित कर बासा देने की परम्परा का निर्वहन किया। मां गवरजा मण्डली की ओर से पारम्परिक गणगौरी गीतों का गायन किया गया।

 

हो जी म्हाने पूजण दो गणगौर...
पुरानी गिन्नाणी स्थित हरीराम बाबा मंदिर के पास सोमवार को गणगौर पूजन उत्सव मनाया गया। बालिका-महिलाओं ने गवर-ईसर की प्रतिमाओं का पूजन कर बासा देने की परम्परा का निर्वहन किया। आयोजन के दौरान 'गवरल रूडो ए नजारो तीखो नैणो रो, बासो तो बसियो ए राणी गवरल, हो जी म्हाने पूजण दो गणगौरÓ सहित कई पाराम्परिक गणगौर गीत गाए गए। राजनंदिनी, निकिता, दीपा, ऋतिका आदि बालिकाओं ने गणगौर प्रतिमाओं के समक्ष नृत्य प्रस्तुत किए। सोहिनी देवी बिस्सा के नेतृत्व में विमला, विजयलक्ष्मी, नारायणी, सुरजा आदि महिलाओं ने गीत गाए।

 

गणगौर का पूजन
मुरलीधर व्यास नगर स्थित जबरेश्वर महादेव मंदिर के पास गली में गणगौर पूजन उत्सव मनाया गया। इस अवसर पर दुर्गा देवी, नर्बदा देवी, सुनीता सहित बड़ी संख्या में महिलाओं ने गणगौर प्रतिमाओं का पूजन कर पारम्परिक गीतों का गायन किया व नृत्य प्रस्तुत किया।

Show More
dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned