दूसरे दिन भी हंगामे दार रही नगर निगम की साधारण सभा, ओडीएफ, अवैध निर्माण सहित कई मुद्दों पर उठे सवाल

Anushree Joshi

Publish: Oct, 13 2017 09:43:41 (IST)

Bikaner, Rajasthan, India
दूसरे दिन भी हंगामे दार रही नगर निगम की साधारण सभा, ओडीएफ, अवैध निर्माण सहित कई मुद्दों पर उठे सवाल

बैठक का अधिकांश समय ओडीएफ, अवैध निर्माण पर चर्चा और हंगामा में बीता।महापौर ने बैठक के दौरान पार्षदों से ओडीएफ, निर्माण कार्य में सहयोग करने की अपील की

नगर निगम की साधारण सभा गुरुवार को दूसरे दिन भी हंगामेदार रही। निगम प्रशासन और महापौर की उदासीनता पर पक्ष और विपक्ष के पार्षदों ने जमकर सवाल उठाए। सदन में भाजपा के कुछ पार्षदों ने निगम की बिना अनुमति और नियम विरुद्ध हो रहे निर्माण कार्यों को लेकर गंभीर आरोप लगाए। दूसरे दिन की बैठक का अधिकांश समय ओडीएफ और अवैध निर्माण पर चर्चा और हंगामा में बीता। वही महापौर ने बैठक के दौरान पार्षदों से ओडीएफ, निर्माण कार्य में सहयोग करने की अपील की।

 

बैठक में भाजपा पार्षद व निर्माण समिति सदस्य नीलम कुमारी ने आरोप लगाए कि निगम में मौखिक निर्माण कार्य अनुमति की परम्परा चल रही है। उन्होंने शहर में जहां-जहां बिना अनुमति और नियम विरुद्ध निर्माण कार्य चल रहे है उनकी सूची सदन के पटल पर रखी। पार्षद मोहम्मद ताहिर ने कहा कि कई बिल्डिंगों के निर्माण बिना अनुमति हो रहे है। यह कौन मौखिक अनुमति दे रहा है, पता लगाया जाए। पार्षद राजेन्द्र शर्मा ने सवाल उठाया कि ६ महीने हो गए नोटिस दिए फिर भी बिल्डिंग सीज क्यों नहीं हो रही है।

 

पार्षद भगवती प्रसाद गौड और पार्षद शिवकुमार रंगा ने कहा कि जो नियमानुसार अनुमति लेकर निर्माण करवाना चाहता है उसको अनुमति नहीं दी जा रही है। वहीं दूसरी ओर धडल्ले से बिना अनुमति निर्माण कार्य हो रहे है। सभा के दौरान नेता प्रतिपक्ष जावेद पडि़हार, आदर्श शर्मा, नन्दलाल जावा सहित कुछ भाजपा पार्षदों ने भी ओडीएफ पर सवाल उठाए।

 

उन्होंने आरोप लगाया कि लोग खुले में शौच करने जा रहे है, फिर भी निगम अधिकारी कागजों में शहर को ओडीएफ करने पर उतारू है। सभा के दौरान बिना अनुमति निर्माण कार्यों की चर्चा के दौरान निर्दलीय पार्षद आदर्श शर्मा अण्डर टेकिंग के आधार पर दी जा रही निर्माण कार्यो की अनुमति पर विरोध जताते रहे। उन्होंने आदेशों की प्रति लेकर विरोध जताते हुए फाड़कर भी उछाला।

 

अधिकारियों की अनुपस्थिति पर रोष
सभा के दौरान प्रस्तावों को अनुमोदन के लिए रखे जाने के दौरान संबंधित अधिकारियों के सदन में मौजूद नहीं रहने पर पक्ष और विपक्ष के पार्षदों ने आक्रोश जताया। पार्षदों ने आरोप लगाया कि अधिकारी सदन को गंभीरता से नहीं ले रहे है। अग्निशमन संबंधित प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान अग्निशमन अधिकारी के उपस्थित नहीं रहने पर रोष जताया।

 

फायर ब्रिगेड पर बवाल
सभा के दौरान जिस समय सदन में अग्निशमन से संबंधित प्रस्ताव पर चर्चा चल रही थी उसी समय महापौर कक्ष के पास स्थित एक टॉयलेट में फायर ब्रिगेड से सफाई व टंकी में पानी भरा जा रहा था। इसे लेकर कुछ पार्षदों ने सदन में हंगामा कर दिया। पार्षद आदर्श शर्मा, जावेद पडि़हार सहित कांग्रेस पार्षदों ने सभा से बाहर आकर फायर ब्रिगेड के समक्ष विरोध जताया व गाडी की चाबी निकाल ली। सदन में कांग्रेस पार्षदों व निर्दलीय पार्षद आदर्श शर्मा ने फायर ब्रिगेड वाहनों के दुरुपयोग को लेकर सवाल उठाए। महापौर के उचित आश्वासन के बाद ही सदन की कार्रवाई शुरू हो सकी।

 

यह भी बोले सदन में
साधारण सभा के दौरान समीउल्ला, भावना गहलोत, दिव्या राजपुरोहित, प्रेमरतन जोशी, राजा सेवग, नरेश जोशी, गिरिराज जोशी, राजेन्द्र पंवार, विनोद धवल, दुलीचन्द शर्मा, युनूस अली, अजय सिंह राजपुरोहित, उम्मेद सिंह राजपुरोहित, नन्दलाल जावा, सोहन लाल प्रजापत, कृष्णा कंवर ने विभिन्न मामलों पर अपने विचार रखे।

 

निराश्रित गौवंश पर नहीं हो सकी चर्चा
निराश्रित गौवंश की समस्या के निस्तारण और गोशाला निर्माण के प्रस्ताव पर सदन में चर्चा ही नहीं हो सकी। हालांकि कुछ पार्षद सभा को शुक्रवार को जारी रखते हुए इस पर चर्चा का प्रस्ताव रखा लेकिन सर्वसम्मति नहीं बन सकी।
बैठक के लिए कुल 11 बिन्दू एजेंडे में थे, जिनमें से दो दिन के दौरान 9 पर चर्चा हो सकी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned