युवक को थाने ले जाकर बेरहमी से पीटने के मामले में चार पुलिस कर्मचारियों को लाइन हाजिर

युवक को थाने ले जाकर बेरहमी से पीटने के मामले में चार पुलिस कर्मचारियों को लाइन हाजिर

dinesh swami | Publish: Jun, 14 2018 01:42:09 PM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

हेलमेट चैकिंग के दौरान युवक को थाने ले जाकर बेरहमी से पीटने के मामले में चार पुलिस कर्मचारियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है।

बीकानेर. हेलमेट चैकिंग के दौरान युवक को थाने ले जाकर बेरहमी से पीटने के मामले में चार पुलिस कर्मचारियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक सवाईसिंह गोदारा ने बुधवार शाम को इसके आदेश जारी किए। आदेश में एएसआई रतनलाल, हवलदार रेवंतराम, सिपाही बिट्टू एवं राजूनाथ को लाइन हाजिर किया गया है।

 

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हेलमेट नहीं पहनने पर मारपीट करना गलत है। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए पृथमदृष्टया चारों पुलिस कर्मचारियों को लाइन हाजिर किया है। इस प्रकरण की जांच सीओ सदर राजेन्द्रसिंह कर रहे हैं। उनकी रिपोर्ट मिलने के आधार पर दोषी पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

मेडिकल कराया, आज होंगे बयान
पीडि़त युवक का बुधवार को पीबीएम अस्पताल में मेडिकल कराया गया है। गुरुवार को उसके बयान होंगे। गौरतलब है कि सात जून को जवाहर नगर निवासी वीर विक्रम आचार्य के पास हेलमेट नहीं होने पर जेएनवीसी पुलिस के एएसआई व तीन-चार कांस्टेबलों ने थाने ले जाकर बेरहमी से पिटाई की थी, जिससे युवके के शरीर पर गहरे निशान पड़ गए। पीडि़त ने इस संबंध में आइजी एवं मानवाधिकार आयोग को भी शिकायत की है।

 

पत्रिका ने उठाया मुद्दा
युवक वीर विक्रम व्यास के साथ पुलिस कर्मचारियों ने थाने में ले जाकर मारपीट की। युवक ने इस संबंध में पुलिस अधिकारियों से शिकायत की, लेकिन उन्होंने कोई सुनवाई नहीं की। आखिर में पीडि़त की पीड़ा को 'राजस्थान पत्रिकाÓ ने प्रमुखता से उठाया। इसके बाद हरकत में आए पुलिस प्रशासन ने कार्रवाई की।

 


'आमजन से करेंं सद्व्यवहार'

बीकानेर ञ्च पत्रिका. पुलिस कंट्रोल रूम में बुधवार को हुई क्राइम मीटिंग में पुलिस अधीक्षक सवाईसिंह गोदारा ने पुलिस कर्मचारी-अधिकारियों को आमजन के साथ सद्व्यवहार करने का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि कानून का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ विधिसम्मत कार्रवाई करें। आमजन के साथ दुव्र्यवहार व अपराधियों के साथ संलिप्तता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने जेएनवीसी पुलिस कर्मचारियों की करतूत पर नाराजगी जताई।

 

गोदारा ने कहा कि कुछ कर्मचारियों की गलती से पूरे महकमे को नीचा देखना पड़ता है। उन्होंने शहर व गांवों में बढ़ रही चोरी की वारदातों पर सख्त नाराजगी जताई। आमजन को सुरक्षा व भयमुक्त वातावरण मुहैया कराने का प्रयास करें। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अब चुनावी दौर शुरू हो चुका है। सभी थानाधिकारी अपने क्षेत्र में अपराधियों एवं संदिग्धों पर निगरानी रखें। रात आठ बजे बाद शराब बिक्री, क्रिकेट सट्टा पर अंकुश लगाएं। बैठक में एएसपी सिटी पवनकुमार मीणा, एएसपी ग्रामीण लालचंद कायल, सीओ सदर राजेन्द्रसिंह आदि उपस्थित थे। सहित सभी थानों के एसएचओ और जिले के सीओ उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned