घर पर हमला, तोडफ़ोड़ व मारपीट, परस्पर मामले दर्ज

जेएनवीसी थाना क्षेत्र के उदासर गांव का मामला

By: Jaiprakash

Published: 15 Sep 2020, 11:37 AM IST

बीकानेर। जेएनवीसी थाना क्षेत्र में रविवार को २०-२५ लोगों ने उदासर में एक घर पर जानलेवा हमला कर दिया। घर में जमकर तोडफ़ोड़ की। वारदात की सूचना पर जेएनवीसी पुलिस भी मौके पर पहुंची। इस संबंध में थाने में दो परस्पर मामले दर्ज हुए हैं। पुलिस के अनुसार एक मामला उदासर के ट्रायो नगर निवासी पूर्णाराम की ओर से ब्र्रिजा बावरी, मामराज नायक, बसंत नाहटा, व हेमसिंह उर्फ कुलदीपसिंह एवं २०-२५ अन्य के खिलाफ दर्ज कराया है।

परिवादी नेे बताया कि आरोपियों ने पिस्तौल, धारदार हथियार व लाठियां के साथ उसके परिवार पर हमला किया। घर में तोडफ़ोड़ की, सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए। हमले में वह घायल हुआ है।। वहीं दूसरा मामला सुंई हाल पिं्रस नाहटा कॉलोनी निवासी सावित्री देवी पत्नी बिरजूराम बावरी ने दर्ज कराया है। उसने बताया कि वह यहां कॉलोनी में चौकीदारी का काम करती है। रविवार को पूर्णाराम जाट, उसकी पत्नी गीता, पुत्री कौशल्या, पुत्र बाबूलाल व उसके ससुर मोहनराम ने जमीन पर अवैध कब्जा करने की नीयत से घुस गए। आरोपी पट्टियां व तारबंदी तोडऩे लगे, उन्हें मना किया तो गाली-गलौज करने लगे तथा पति-पत्नी के साथ मारपीट की। आरोपियों ने उसके बाल पकड़कर घसीटा और घर से बाहर निकाल दिया। शोर-शराबा सुनकर पड़ोस के लोग आए तब आरोपी भाग छूटे। पुलिस ने दोनों मामले दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं।

हत्या के प्रयास का आरोपी गिरफ्तार
बीकानेर। कोटगेट पुलिस ने हत्या के प्रयास के मामले में फरार चल रहे एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। बड़ी जसोलाई के विजय कुमार ने सात जून को थाने में मामला दर्ज करवाया था। विजय ने पुलिस को बताया कि वह दोस्त बाबू उर्फ गुफान खां के साथ घर जा रहा था। रास्ते में अक्षय व विकास मिले, जो उससे रंजिश रखते थे। आरोपियों ने जान से मारने की नीयत से उस पर धारदार हथियार से गर्दन पर वार किए, जिससे वह घायल हो गए। दोस्त ने बीच-बचाव कर उसे बचाया। घटना के बाद से फरार चल रहे। कमला कॉलोनी निवासी अक्षय को शनिवार को गिरफ्तार किया। रविवार को कोर्ट में पेश करने के बाद उसे जेल भेज दिया गया।

Jaiprakash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned