scriptजनप्रतिनिधियों के फीडबैक के आधार पर गंभीरतापूर्ण कार्य करने के दिए निर्देश | Patrika News
बीकानेर

जनप्रतिनिधियों के फीडबैक के आधार पर गंभीरतापूर्ण कार्य करने के दिए निर्देश

ऊर्जा मंत्री नागर ने गुरुवार को जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के मुख्य अभियंता कार्यालय सभागार में आयोजित संभाग स्तरीय बैठक में यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विद्युत सप्लाई से जुड़ी समस्या का पता चलता ही उसके समाधान के प्रयास हों।

बीकानेरJun 20, 2024 / 07:34 pm

Atul Acharya

ऊर्जा मंत्री हीरालाल नागर ने कहा कि उपभोक्ताओं को गुणवत्तायुक्त बिजली उपलब्ध करवाने के लिए राज्य सरकार कृत संकल्प है। इसे ध्यान रखते हुए सभी जनप्रतिनिधियों और आमजन के फीडबैक पर सभी अधिकारी गंभीरता से काम करें। ऊर्जा मंत्री नागर ने गुरुवार को जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के मुख्य अभियंता कार्यालय सभागार में आयोजित संभाग स्तरीय बैठक में यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विद्युत सप्लाई से जुड़ी समस्या का पता चलता ही उसके समाधान के प्रयास हों। जनप्रतिनिधियों द्वारा आमजन के हित में जो भी प्रस्ताव भिजवाए जाएंगे, उनको स्वीकृत करवाने का पूरा प्रयास किया जाएगा। नागर ने कहा कि अधिकारियों द्वारा उपलब्ध संसाधनों का अधिकतम उपयोग करते हुए यह प्रयास किया जाए कि‌ आमजन को अधिकतम राहत मिले। संभाग में विभिन्न फर्मों द्वारा किए जा रहे जीएसएस कार्यों की प्रगति रिपोर्ट लेते हुए ऊर्जा मंत्री ने कहा कि सभी फर्म तय समय-सीमा में काम पूरे करवाएं। निर्धारित समय अवधि में काम पूरा नहीं होता है तो फर्म के विरुद्ध नियम अनुसार कार्रवाई की जाए। ऊर्जा मंत्री ने पीएम कुसुम कॉम्पोनेंट्स सी के तहत किसानों को सौर ऊर्जा प्लांट का लाभ लेने के लिए प्रेरित करने को कहा। उन्होंने कहा कि अधिकारी किसानों को प्रेरित करने के साथ बैंकिंग, सब्सिडी आदि की जानकारी दें। इसके लिए शिविर लगाएं और आमजन को इस योजना का अधिकतम लाभ लेने के लिए प्रेरित करें। वोल्टेज ट्रिपिंग तथा जले हुए ट्रांसफार्मर समयबद्ध रूप से नहीं बदले जाने की शिकायत पर ऊर्जा मंत्री ने बैठक में ही चीफ इंजीनियर को फोन कर ट्रांसफार्मर की उपलब्धता समय पर सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए।
जीएसएस अथवा क्षमतावर्धन कार्य के प्रस्ताव भिजवाए
नागर ने कहा कि ओवरलोड वाले स्थानों पर नए जीएसएस अथवा क्षमतावर्धन कार्य के प्रस्ताव भिजवाए जाएं। स्वीकृत जीएसएस के कार्य जल्दी से जल्दी पूर्ण हों, जिससे आमजन को राहत मिल सके। किसानों के हितों के साथ कोई समझौता नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सोलर प्लांट से प्राप्त हो रही बिजली में वोल्टेज कम ना हो, इसके लिए आवश्यक उपकरण लगवाए जाएं। संभाग में 132 केवी जीएसएस की प्रगति की जानकारी लेते हुए कहा कि यदि फर्म समय पर काम पूरा नहीं करती है तो विभाग स्वयं जीएसएस के कार्य पूर्ण करवाए और संबंधित ठेकेदार को भुगतान नहीं किया जाए। इन निर्देशों की सख्ती से पालना सुनिश्चित करें। बीकानेर (पूर्व) विधायक सिद्धि कुमारी ने शहरी क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति सुचारू करवाने के साथ शहर के मुख्य मार्गो में अंडरग्राउंड केबल बिछाने, ढीले तारों को ठीक करवाने, ट्रांसफार्मर की लोड क्षमता बढ़ाने, विजिलेंस टीम में महिला सदस्य नियुक्त करने व शिकायत के त्वरित निस्तारण हेतु रिड्रेसल सिस्टम बनाने की मांग रखी। इस पर ऊर्जा मंत्री ने बीकेईएसएल को आगामी सप्ताह में हेल्पडेस्क स्थापित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस हेल्पडेस्क के माध्यम से जनप्रतिनिधियों द्वारा उठाए गए विषयों को प्राथमिकता से हल किया जाए।
5 जीएसएस के कार्य काफी समय से लंबित
श्रीडूंगरगढ़ विधायक ताराचंद सारस्वत ने कहा कि क्षेत्र में 5 जीएसएस के कार्य काफी समय से लंबित हैं, इन्हें प्राथमिकता से पूर्ण करवाया जाए। कोलायत विधानसभा विधायक अंशुमान सिंह भाटी ने फीडर सेग्रीगेशन कार्य पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि मांग बढ़ने के साथ इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित करने की दिशा में काम करना होगा। इस दौरान सादुलपुर विधायक मनोज न्यांगली, सरदारशहर विधायक मनोज कुमार मेघवाल, सुजानगढ़ विधायक अनिल कुमार शर्मा और रतनगढ़ विधायक पूसाराम गोदारा ने भी सुझाव दिए। पूर्व विधायक बिहारीलाल बिश्नोई ने जीएसएस कार्यों में प्रगति बढ़ाने, आरडीएसएस में आवश्यकतानुसार नये प्रावधान जोड़ने की बात कही। संभागीय मुख्य अभियंता नरेंद्र कुमार जोशी ने संभाग में विद्युत की मांग, खपत, उपलब्धता, रिक्त पदों की संख्या, स्वीकृत प्रस्तावित तथा प्रगतिरत जीएसएस आदि की जानकारी दी। बैठक में संभाग के सभी जिलों के अधीक्षण अभियंता व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Hindi News/ Bikaner / जनप्रतिनिधियों के फीडबैक के आधार पर गंभीरतापूर्ण कार्य करने के दिए निर्देश

ट्रेंडिंग वीडियो