परीक्षा शुल्क और नियुक्ति का उठाया मुद्दा

bikaner news - Issue of examination fee and appointment

By: Jaibhagwan Upadhyay

Published: 19 Mar 2020, 11:43 AM IST

कृषि मंत्री लालचंद कटारिया से नोखा विधायक बिहारी लाल बिश्नोई ने की वार्ता

बीकानेर.
संयुक्त प्रवेश परीक्षा शुल्क में कमी करने, कृषि पर्यवेक्षक 2018 एवं सहायक कृषि अधिकारी भर्ती 2015 में चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति को लेकर नोखा विधायक बिहारी बिश्नोई ने कृषि मंत्री लालचंद कटारिया से मुलाकात की। नोखा विधायक बिश्नोई ने कृषि मंत्री से चयनित अभ्यर्थियों को शीघ्र नियुक्ति देने की मांग की।

बिश्नोई ने कहा कि कृषि महाविद्यालयों में स्नातक की डिग्री में प्रवेश के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा प्रत्येक वर्ष आयोजित होती है। इसमें लगभग 50 से 60 हजार अभ्यर्थियों द्वारा आवेदन किए जाते हैं। राजस्थान में इसका परीक्षा शुल्क 2800 प्रति आवेदन है जो भारत भर में सबसे ज्यादा है। इसके समकक्ष आयोजित होने वाली परीक्षा आईसीएआर, बीएचयू परीक्षा शुल्क से अधिक है। राजस्थान में इस परीक्षा में भाग लेने वाले 90 प्रतिशत विद्यार्थी किसान व ग्रामीण परिवेश से आते हैं। उन्होंने कहा कि ७ जून को होने वाली परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों को भारी शुल्क चुकाना पड़ रहा है।

फीस वापस मिलनी चाहिए

बिश्नोई ने कहा कि संयुक्त प्रवेश परीक्षा का शुल्क बाकी राज्यों के बराबर किया जाना चाहिए एवं जिनसे अधिक फीस ले ली गई है, उन्हें वापस रिफण्ड दिया जाए। ताकि गरीब व किसान परिवार के बच्चे भी इस परीक्षा में ज्यादा से ज्यादा भाग ले सकें। बिश्नोई ने कहा कि राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा वर्ष 2018 में 1832 पदों पर कृषि पर्यवेक्षक की भर्ती निकाली गई थी। उक्त भर्ती का परिणाम 22 जुलाई 2019 को जारी हुआ। उसके बाद राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा चयन अभ्यर्थियों के पात्रता की जांच एवं दस्तावेजों का सत्यापन 19 अगस्त 2019 से 30 अगस्त 2019 के बीच किया गया था।

लेकिन अभी तक कृषि विभाग द्वारा चयन कृषि पर्यवेक्षकों का पदस्थापन नहीं किया गया। इसके अलावा आरपीएससी ने वर्ष 2015 में 248 पदों पर सहायक कृषि अधिकारी की भर्ती निकाली गई, जिसका परिणाम २०१८ में घोषित हुआ था। चयनित अभ्यर्थियों की साक्षात्कार प्रक्रिया पूर्ण करने के बावजूद अभ्यर्थियों को पदस्थापन नहीं किया गया है।

Jaibhagwan Upadhyay Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned