घर पर रहने में ही समझदारी, बाहर निकले तो जुर्माना और कोरोना का डर

bikaner news - It makes sense to stay at home, fear of fines and corona if you go out

By: Jaibhagwan Upadhyay

Updated: 02 May 2021, 08:09 PM IST

पुलिस ने शुरू की सख्ती, 3 मई से नई गाइडलाइन के तहत होगी कार्रवाई
बीकानेर.
कोरोना महामारी के बढ़ते आंकड़ों और पुलिस की सख्ती को देखकर घर में रहने में ही समझदारी है। बाहर निकलने पर न केवल आपको जुर्माने का सामना करना पड़ सकता है, बल्कि कोरोना महामारी की चपेट में आने का भय भी है।

जिला प्रशासन और पुलिस महकमे ने ३ मई से शुरू होने वाली नई गाइडलाइन की पालना को लेकर अभी से तैयारियां करनी शुरू कर दी है। पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारी इस बार सख्त रवैया अपनाने के मूड में है। पुलिस प्रशासन ने तो अभी से इसकी तैयारी भी करनी शुरू कर दी है। शनिवार को भी बेवजह घरों से बाहर निकलने वाले लोगों के वाहनों को जब्त करने की कार्रवाई की गई, वहीं सैंकड़ों लोगों को जुर्माना लेकर छोड़ा गया।


अब पचास फीसदी खुलेगा बाजार
फड़बाजार में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अब एक दिन में पचास फीसदी दुकानों को ही खोला जाएगा। इस संबंध में स्थानीय पुलिस और एरिया मजिस्ट्रेट ने सभी दुकानदारों के साथ वार्ता कर दुकानदारों के दिन भी तय कर दिए हैं। प्रशासनिक अधिकारियों की मानें तो इस प्रकार के नियमों से बाजारों में उमडऩे वाली भीड़ पर नियंत्रण किया जा सकेगा।


सख्त होगा जुर्माना
व्यास कॉलोनी थाना पुलिस की ओर से शनिवार को पवनपुरी क्षेत्र में अनाधिकृत वाहन संचालन के खिलाफ कार्रवाई की। थाने के एएसआइ ओम प्रकाश बिश्रोई ने बताया कि तीन मई से लागू होने वाली कोरोना की नई गाइडलाइन को सख्ती से लागू करने के लिए उच्चाधिकारियों के निर्देश हैं। ताकि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके। उन्होंने बताया कि शहर में कोरोना महामारी दिनों-दिन बढ़ रही है, इसके बावजूद आज भी सैंकड़ों लोग बिना वजह अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं जो सही नहीं है। उन्होंने बताया कि नई गाइडलाइन के तहत अब बेवजह घरों से बाहर निकलने वाले लोगों के खिलाफ ज्यादा जुर्माना वसूलने का प्रावधान भी है। इस कार्य के लिए सरकार ने पुलिस प्रशासन के साथ-साथ जिला प्रशासन के अधिकारियों को भी लगाया है। शनिवार को थाने के हैड कांस्टेबल संतोष कुमार, राकेश बिश्रोई एवं झाबरमल ने कार्रवाई में सहयोग किया।


बाजार में दिखने लगा सन्नाटा
पुलिस और जिला प्रशासन की सख्ती के बाद अब सुबह ग्यारह बजे बाद अनुमत दुकानों के अलावा कोई व्यापारिक गतिविधियां नहीं हो रही। ऐसे में बाजार में ग्यारह बजे से पहले ही सन्नाटा पसरने लगता है। शनिवार को शहर के विभिन्न हिस्सों में संबंधित एरिया मजिस्ट्रेट और पुलिस प्रशासन के जवान गश्त करते दिखाई दिए।

Jaibhagwan Upadhyay Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned