राजस्थान कबीर यात्रा का आगाज आज

वेटरनरी विवि में होगा शुभारंभ श्रीडूंगरगढ़, नोखा, राववाला जाएगी यात्रा

लोकायन संस्थान तथा पुलिस प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में राजस्थान कबीर यात्रा का आगाज शुक्रवार शाम को छह बजे वेटरनरी विश्वविद्यालय परिसर स्थित दीवाने आम में प्रख्यात उर्दू दास्तानगो अंकित चड्ढा की संत कबीर के जीवन पर आधारित दास्तानगोई दास्तान ढाई आखर्य मालवा के प्रसिद्ध लोक वाणी गायक कालूराम बामनिया और बीकानेर के प्रसिद्ध सूफी गायक मुख्त्यार अली की प्रस्तुतियों के साथ होगा। 


कबीर यात्रा का विधिवत उदघाटन  केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल, पुलिस अधीक्षक डॉ. अमनदीप सिंह कपूर, लोकायन अध्यक्ष महावीर स्वामी एवं प्रायोजक नरसी कुलरिया  करेंगे।  


राजस्थान कबीर यात्रा के निदेशक गोपाल सिंह चौहान ने बताया कि यात्रा का शुभारंभ सत्र सुबह ग्यारह बजे गंगाशहर बीकानेर आचार्य तुलसी शान्ति प्रतिष्ठान स्थित नैतिकता का शक्ति पीठ स्थल पर आयोजित होगा। 


जिसमें राजस्थानी के साहित्यकार पद्मश्री डॉ. चन्द्रप्रकाश देवल, आचार्य महाश्रमण की आज्ञानुवर्ती शिष्या बहुश्रुत साध्वी कनक के सान्निध्य में राजस्थानी में कबीर एवं आचार्य तुलसी की व्यक्तित्व पर व्याख्यान देंगे।  


यात्रा के संयोजक रंगकर्मी जयदीप उपाध्याय के अनुसार राजस्थान कबीर यात्रा में पंजीकृत देश-विदेश के लगभग दो सौ यात्री बीकानेर पहुंच चुके हैं। यात्रा उदघाटन के दूसरे दिन 12 नवंबर को श्रीडूंगरगढ़ में शाम सात बजे कार्यक्रम होगा। 


कस्बे के पुराने बस स्टैंड के पीछे स्थित मैदान में यात्रा के अन्तर्गत कच्छ, गुजरात के मावजी भाई, बैगलौर की शबनम बिरमानी एवं विपुल रिखी, नई दिल्ली के हरप्रीत सिंह तथा बीकानेर के अली गनी भाई अपनी संगीतमय प्रस्तुतियां देंगे।  


लोकायन के संस्थापक कृष्णचन्द्र शर्मा के अनुसार यात्रा 13 नवंबर को राववाला, 14 नवंबर को श्रीकोलायत तथा 15 नवंबर मूलवास नोखा में पड़ाव करते हुए 16 नवंबर को पुन: बीकानेर पहुंचेगी। 16 नवम्बर को शाम को जूनागढ़ किले में शास्त्रीय गायक पद्मश्री मधुप मुदगल तथा सुप्रसिद्ध कबीर वाणी गायक पद्मश्री प्रहलाद सिंह टिपानिया की संगीतमय प्रस्तुतियों के साथ यात्रा पूर्ण होगी। 

अनुश्री जोशी
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned