राजस्थान: रिश्ते में मौसेरे भाई, लेकिन अब चुनाव में प्रतिद्वंदी, मुकाबला रहेगा बेहद रोचक

Lok Sabha Election 2019: Arjun Lal Meghwal versus Madan Gopal Meghwal in Bikaner constituency.

By: Nakul Devarshi

Published: 29 Mar 2019, 03:18 PM IST

बीकानेर।

राजस्थान में लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) में बीकानेर संसदीय सीट (Bikaner Constituency) पर मौसेरे भाईयों के बीच चुनावी मुकाबला होगा। भारतीय जनता पार्टी ने केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल (Arjun Ram Meghwal) को अपना प्रत्याशी बनाया है वहीं कांग्रेस ने इस सीट पर मेघवाल के मौसेरे भाई मदन गोपाल मेघवाल (Madan Gopal Meghwal) को अपना प्रत्याशी घोषित किया है।

 

मेघवाल बीकानेर से लगातार दो बार लोकसभा चुनाव जीत चुके है और तीसरी बार चुनाव मैदान में है, जबकि गोपाल मेघवाल पहली बार चुनाव मैदान में उतरे है। उन्होंने पिछले विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय पुलिस सेवा से वीआरएस ले लिया था लेकिन उन्हें बीकानेर जिले की खाजूवाला सीट पर कांग्रेस से टिकट नहीं मिल पाया था।

 

ऐसे है प्रत्याशियों के बीच 'घर का रिश्ता'
भाजपा के दो बार के सांसद और पूर्व आइएएस अधिकारी अर्जुनराम मेघवाल के मुकाबले में कांग्रेस ने भी ब्यूरोक्रेसी से राजनीति में आए पूर्व आइपीएस मदन गोपाल मेघवाल को प्रत्याशी बनाया है। खास बात यह है कि दोनों एक ही परिवार और प्रोफेशन से हैं। अर्जुनराम मेघवाल और मदन गोपाल मेघवाल की माताएं सगी बहनें हैं। इस नाते दोनों रिश्ते में भाई लगते हैं।

 

अर्जुनराम मूलत: बीकानेर के उपनगरीय गंगशहर क्षेत्र के किसमीदेसर के रहने वाले हैं। वही मदन मेघवाल पुराने शहर के नत्थूसर गेट क्षेत्र के निवासी हैं। अर्जुनराम मेघवाल 10 साल पहले जिस तरह आइएएस अधिकारी से वीआरएस लेकर राजनीति में उतरे थे, ठीक उसी तरह मदन मेघवाल ने भी विधानसभा चुनाव से पहले आइपीएस अधिकारी से वीआरएस ली। वे उस समय कांग्रेस के टिकट पर खाजूवाला से चुनाव लडऩा चाहते थे, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया था।

Nakul Devarshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned