scriptmessing with life | जिन्दगी के साथ कर रहे खिलवाड़, जिम्मेदार मौन | Patrika News

जिन्दगी के साथ कर रहे खिलवाड़, जिम्मेदार मौन

नीम-हकीम व झोलाछाप का गांवों में फैला मकडज़ाल
स्वयंभू डॉक्टर बनकर मरीजों को चंगुल में फंसाकर रुपए ठगते

बीकानेर

Published: April 07, 2022 10:40:18 am

लूणकरनसर. उपखण्ड मुख्यालय समेत गांवों में नीम-हकीम व झोलाछाप का फैलता जाल लाइलाज बीमारी साबित हो रहा है। स्थिति यह है कि गांव-गांव, ढाणी-ढाणी में झोलाछाप फर्जी चिकित्सक बेरोकटोक भोले-भाले ग्रामीणों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। इसके विपरीत जिम्मेदार अधिकारी उदासीन बने है।
जिन्दगी के साथ कर रहे खिलवाड़, जिम्मेदार मौन
जिन्दगी के साथ कर रहे खिलवाड़, जिम्मेदार मौन

गौरतलब है कि कस्बे व गांवों की हर गली-मोहल्ले में झोलाछाप चिकित्सकों की भरमार है। इनके पास डॉक्टरी की उपाधि होना तो दूर धरातलीय चिकित्सकीय ज्ञान भी नहीं होता है। जानकारी में आया है कि बहुत से ऐसे फर्जी झोलाछाप किसी डिग्रीधारी चिकित्सक के पास बैठकर या दवा की दुकानों में थोड़ा काम सीख लेते है और कुछ समय बाद स्वयं-भू डॉक्टर बनकर अपनी दुकान चलाना शुरू कर देते है। ये नौसिखिए टाइफाइड व टीबी जैसी बीमारियों का इलाज भी शर्तिया करते है। साथ ही भ्रूण हत्या व अवैध गर्भपात समेत अन्य जघन्य अपराध करने से भी नहीं चूकते है।

प्रशासन इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं पा रहा है जिससे इन्होंने प्राय: हर गांव से अपने ठिकाने बना लिए है और ग्रामीणों की जिन्दगी से खिलवाड़ का सिलसिला जारी है। गांवों में इन झोलाछाप के उपचार से कई बार मरीजों की मौत के मामले सामने आते है लेकिन ना प्रशासन ध्यान देता है तथा ना ही चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग इनके खिलाफ कार्रवाई करता है।

इन दिनों गांवों में भीषण गर्मी के चलते मौसमी बीमारियों से मरीजों की संख्या बढ़ रही है। ऐसे झोलाछाप स्टेरॉयड व हैवी-डोज देकर मरीजों का उपचार करते है जिससे मरीज कुछ समय तो आराम मिल जाता है लेकिन कुछ दिन बाद इसके गंभीर परिणाम आने के बाद उसे उपचार के लिए बड़े सरकारी अस्पताल जाना पड़ता है। यहां तक पहुंचने से पहले मरीज को स्वास्थ्य व आर्थिक दोनों नुकसान उठाने पड़ते है।

मिलीभगत का अंदेशा
गांवों में धड़ल्ले से उपचार कर रहे नीम-हकीमों व झोलाछाप पर कार्रवाई नहीं होने से चिकित्सा विभाग के अधिकारियों व चिकित्सकों के साथ मिलीभगत का अंदेशा लग रहा है। दिगर बात ये है कि हर गांव में सरकारी चिकित्सा संस्थानों के समानान्तर ये झोलाछाप अपनी दुकान चला रहे है। इनकी पूरी रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग के कार्मिकों से जिला स्तर के अधिकारियों तक है। यहां तक बात सामने आई है कि गांवों के झोलाछाप दवा कम्पनियों से चिकित्सकों को मिलने वाले नोट फोर सेल लिखी सैम्पल की दवाइयां बेच रहे हैं।

इन गांवों में मकडक़ााल
जानकारी के मुताबिक लूणकरनसर, कालू, महाजन, रोझां, गारबदेसर, ङ्क्षखयेरां, कांकड़वाला, मलकीसर, छटासर, गोपल्याण, कपूरीसर समेत सैकड़ों गांवों व ढाणियों में झोलाछाप का जाल बिछा हुआ है।
नशीली दवा का प्रयोग
जानकारी में आया है कि झोलाछाप अपनी दुकान में अवैध रूप से मेडिकल स्टोर चलाते है तथा मरीजों को अपनी दवा देते है। इनमें ज्यादातर मरीजों को नशे वाले दवाइयां देते है जिनका असर इतना घातक होता है कि कुछ दिन तक आराम रहता है लेकिन फिर मरीज इनके आदी हो जाते है।

कार्रवाई सेल गठित
हालांकि प्रदेश में नीम-हकीम के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए राज्य स्तर पर सैल का गठन किया गया है लेकिन उपखण्ड मुख्यालयों समेत गांवों में जमे झोलाछाप के खिलाफ कार्रवाई देखने को नहीं मिल रही है। इससे झोलाछाप के हौंसले बुलंद हो रखे हैं और आमजन के जीवन से खिलवाड़ करने में भी झिझकते नहीं हैं।

टीम बनाकर कार्रवाई करेंगे
उपखण्ड क्षेत्र में नीम-हकीम व झोलाछाप द्वारा मरीजों को उपचार के बारे में जानकारी ली जाएगी तथा गांव वार सूची बनाई जाएगी। सीएमएचओ साहब को अवगत करवाकर इनके खिलाफ टीम गठित कर कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. विभव तंवर, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी, लूणकरनसर

कार्रवाई के निर्देश
झोलाछाप का पूरे प्रदेश में दबदबा है। यदि लूणकरनसर क्षेत्र में झोलाछाप मरीजों के साथ खिलाफ कर रहे है, तो जल्द कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. बीएल मीणा, जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, बीकानेर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरसिद्धू की जिद ने उन्हें पहुंचाया अस्पताल, अब कोर्ट में सबमिट होगी रिपोर्टबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.