scriptMore than a hundred people are victims of food poisoning | शादी समारोह में दूषित खाने से सौ से अधिक लोग फूड पॉयजनिंग के शिकार | Patrika News

शादी समारोह में दूषित खाने से सौ से अधिक लोग फूड पॉयजनिंग के शिकार

उल्टी, सिरदर्द व जी मिचलाने की शिकायत होने लगी, प्रशासन को दो घण्टे तक नहीं बताया मामला

बीकानेर

Published: May 12, 2022 03:32:53 pm

लूणकरनसर. तहसील के ग्राम बड़ेरण में बुधवार को एक शादी समारोह में दूषित भोजन से 100-150 लोग फूड पॉयजनिंग के शिकार हो गए। बीमार लोगों को लूणकरनसर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र समेत निजी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया। इसके अलावा बारात में आए लोग बीकानेर उपचार करवाने चले गए।
शादी समारोह में दूषित खाने से सौ से अधिक लोग फूड पॉयजनिंग के शिकार
शादी समारोह में दूषित खाने से सौ से अधिक लोग फूड पॉयजनिंग के शिकार

जानकारी के मुताबिक तहसील के ग्राम बड़ेरण में गोमदराम जाट के बेटे कालूराम व रतीराम के पुत्र व पुत्रियों की शादी थी। इस दौरान बुधवार को बारात आई थी। साथ ही मायरा लेकर भी रिश्तेदार आए थे। बुधवार दोपहर को खाना खाने के बाद बारातियों समेत मायरा लेकर आए लोगों व परिजनों को उल्टी, सिरदर्द व जी मिचलाने की शिकायत होने लगी। इस दौरान कुछ देर तक लोगों को फूड पॉयजङ्क्षनग का अहसास नहीं हुआ। अचानक उल्टी व घबराहट के करने वाले लोगों की तादाद बढऩे से अफरा-तफरी मच गई। इसके बाद सभी लोगों को बस व अन्य वाहनों से लूणकरनसर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। कई लोगों का कस्बे के निजी अस्पताल में उपचार किया गया।

अफरातफरी मची
बीमार लोगों की तादाद बढऩे से एकबारगी अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। वही बारात में शामिल लोग बीकानेर उपचार करवाने चले गए। उधर, फूड पॉयजङ्क्षनग के मामले की जानकारी मिलने के बाद लूणकरनसर उपखण्ड अधिकारी व राजस्व तहसीलदार ने अस्पताल पहुंचकर मामले की जानकारी ली व लोगों के उपचार के निर्देश दिए।
अस्पताल प्रबन्धन की लापरवाही आई सामने
बड़ेरण गांव में बुधवार को फूड पॉयजङ्क्षनग के मामले में सैकड़ों लोग बीमार होने के बाद अस्पताल प्रबन्धन लापरवाह बना रहा। यहां तक की दोपहर का मामला होने के बावजूद उपखण्ड प्रशासन को भी मामले की जानकारी रात आठ बजे बाद ही मिली। इसके बाद उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार रिणवां व तहसीलदार रामनाथ शर्मा मौके पर पहुंचे। इस दौरान अस्पताल में 50-60 लोग उपचाराधीन थे। ऐसा मामला होने के बावजूद प्रभारी चिकित्सक ने मुख्यालय पर ठहरना उचित नहीं समझा। प्रभारी अधिकारी डॉ. रविन्द्र पंवार खुद बीकानेर चले गए। देर रात तक बड़ी तादाद में लोगों का उपचार चल रहा था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

Texas School Firing : अमरीका फिर लहूलुहान, 18 वर्षीय युवक की अंधाधुंध फायरिंग में 18 छात्र और 3 शिक्षकों की मौतमहंगाई से जंग: रिकॉर्ड निर्यात से घबराई सरकार, गेहूं के बाद अब 1 जून से चीनी निर्यात भी प्रतिबंधितआंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलपंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के OSD प्रदीप कुमार भी हुए गिरफ्तार, 27 मई तक पुलिस रिमांड में विजय सिंगलारिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगMonkeypox Quarantine: मंकीपॉक्स के मरीज को चार हफ्ते तक रहना होगा क्वारंटाइन, वरना बढ़ती ही जाएगी बीमारीCoronavirus News Live Updates in India : दिल्ली में 24 घंटों में 400 से ज्यादा नए केसRBSE Rajasthan Board Result 2022 Today: आज जारी हो सकते हैं राजस्‍थान बोर्ड के ये रिजल्‍ट, यहां करें चेक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.