बेटी बनी मां की सेवादार

बेटी बनी मां की सेवादार

Vimal Changani | Publish: May, 12 2019 06:30:19 AM (IST) | Updated: May, 12 2019 07:05:38 PM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

मदर्स डे विशेष

बीकानेर. हर माता-पिता अपने बच्चों को पाल-पोषकर और बेहतर शिक्षा दिलाकर उसे सुखद जीवन देना चाहते हैं। माता-पिता की यह अभिलाषा भी रहती है कि बुढ़ापे के समय बच्चे उनकी सेवा और देखभाल करें। एेसे में एक बेटी मां की सीख पर चलते हुए अब उनकी ही सेवा में जुटी हैं। वह कैंसर से जूझ रही अपनी मां की देखभाल में रात-दिन एक किए हुए है।

 

गजरोला खास (पीलीभत) निवासी संतरा देवी आठ महीने से कैंसर से पीडि़त हैं। मां की पीड़ा को देख शादीशुदा बेटी पप्पी देवी से रहा नहीं गया। पप्पी अपने छोटे-छोटे बच्चों को ससुराल में ही छोड़कर मां को इलाज के लिए बीकानेर के आचार्य तुलसी कैंसर अस्पताल में ले आई। संतरा देवी के पति का निधन हो चुका है। उनका एक बेटा है, लेकिन वह बहुत छोटा है। एेसे में पप्पी देवी मां के इलाज के लिए आगे आईं। अस्पताल के सामने रैन बसेरे रह रही पप्पी दिन-रात मां की सेवा और उनका उपचार कराने में जुटी हैं।

 

पप्पी देवी ने बताया कि मां ने दुख उठाकर उन्हें पाला-पोसकर बड़ा किया। ससुराल की सभी जिम्मेदारियों को छोड़कर यहां आई पप्पी देवी को पूरा विश्वास है कि उसकी मां ठीक हो जाएगी। रैन बसेरे की देखभाल कर रही किरण सोनी बताती हैं कि पप्पी खुद तकलीफ उठाकर मां का उपचार करवा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned