नगर निगम कार्मिकों का इस कारण अटका वेतन

कोषालय से भुगतान की प्रक्रिया के लिए आवश्यक जानकारियों की पूर्ति नहीं हो पाने से वेतन अटका हुआ है।

By: अनुश्री जोशी

Published: 09 Dec 2017, 11:45 AM IST

नगर निगम के कार्मिकों को अब राजकीय कोषालय के माध्यम से ही भुगतान होगा। कोषालय से भुगतान के लिए आईएफएमएस और पे-मैनेजर के माध्यम से भुगतान के लिए आवश्यक प्रक्रिया व सूचनाओं की पूर्ति में हो रही देरी तथा पदों व भुगतान हैड के कारण कार्मिकों को नवम्बर का वेतन अभी तक नहीं मिल पाया है।

 

हालांकि निगम की लेखाशाखा के अधिकारी अगले सप्ताह भुगतान की बात कह रहे हैं। जानकारी के अनुसार कोषालय से भुगतान की प्रक्रिया के लिए आवश्यक जानकारियों की पूर्ति नहीं हो पाने से वेतन अटका हुआ है। आईएफएमएस व पे-मैनेजर वेतन भुगतान के लिए वित्त विभाग की कम्प्यूटरीकृत व्यवस्था है।

 

इस प्रक्रिया में कर्मचारियों का सर्विस व बायोडाटा, एसएसओ आईडी बनानी है। वहीं पदनाम भी जुड़वाना है। बताया जा रहा है कि प्रदेश के सभी निगमों, परिषदों और पालिकाओं में कार्यरत कर्मचारियों के समक्ष यह समस्या बनी हुई है। जानकारों की मानें तो ये कमियां डीएलबी और वित्त विभाग स्तर पर दूर होनी है। संभावना जताई जा रही है कि निगम कार्मिकों को १५ दिसंबर के बाद ही नवम्बर का वेतन मिल सकेगा।

 

वेतन भुगतान के प्रयास
यह सही है कि निगम कार्मिकों को कोषालय के माध्यम से भुगतान होगा। भुगतान में आ रही दिक्कतों की जानकारी से डीएलबी व वित्त विभाग को अवगत करवा दिया है। कार्मिकों के नवम्बर के वेतन भुगतान के प्रयास किए जा रहे हैं। उम्मीद है कि अगले सप्ताह की शुरुआत में भुगतान हो जाएगा।
गोपाल शर्मा, सहायक लेखाधिकारी, नगर निगम बीकानेर

 

नहीं हुई स्वच्छता कमेटी की बैठक, पार्षदों ने जताया रोष
नगर निगम की स्वच्छता कमेटी (पूर्व व पश्चिम) की बैठक शुक्रवार को नहीं हो सकी। कमेटी अध्यक्ष राजेन्द्र कुमार शर्मा के अनुसार कमेटियों के सभी सदस्यों और पार्षदों को समय पर सूचना नहीं मिल पाई व अधिकारी भी अन्य बैठक में होने से बैठक स्थगित कर दी गई।

 

बैठक अब मंगलवार को करने का निर्णय किया है। हालांकि कई पार्षद और कमेटी सदस्य, स्वास्थ्य अधिकारी, एक्सईएन, स्वास्थ्य निरीक्षक आदि पहुंच गए थे। पार्षदों ने इस पर रोष जताया कि निगम प्रशासन ने समय पर पार्षदों को बैठक की सूचना नहीं भिजवाई।

 

राजेन्द्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में पार्षदों ने निगम आयुक्त निकया गोहाएन से मुलाकात कर इस बात पर रोष जताया कि आमजन से जुड़े सफाई जैसे मुद्दे को भी अधिकारी गंभीरता से नहीं ले रहे है। बैठक निर्धारित होने के बाद भी अधिकारियों का नहीं पहुंचना अनुचित है।

 

उन्होंने नाराजगी जताई कि बैठक की सूचना किसी पार्षद को मिली व किसी को समय पर नहीं मिली। समय पर सूचना नहीं मिलने से कुछ पार्षद बैठक में नहीं पहुंच पाए। इस दौरान पार्षद नरेश जोशी, अजय सिंह राजपुरोहित, जमनलाल गजरा, सरला पडि़हार, शिवचंद, लक्ष्मण महाराज, श्रवण गोदारा आदि उपस्थित थे।

अनुश्री जोशी
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned