मजबूरी नहीं अपने शौक पूरा करने के लिए करते थे ऐसा काम

पुलिस ने शहर में बंद मकान व दुकानों में चोरी करने वाले तीन चोरों को गिरफ्तार किया है।

By: dinesh swami

Published: 11 Dec 2017, 02:27 PM IST

बीकानेर . नयाशहर पुलिस ने शहर में बंद मकान व दुकानों में चोरी करने वाले तीन चोरों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों को सोमवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा। पुलिस अधीक्षक सवाईसिंह गोदारा ने बताया कि शहर में कई दिनों से चोरी की वारदात हो रही थी। नयाशहर थाना क्षेत्र में हुई चोरियों के लिए सीओ सिटी किरण गोदारा व सीआई बहादुरसिंह के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया।

 

पुलिस टीम ने रविवार को छोटा राणीसर बास निवासी सदाम हुसैन (20) पुत्र सलीम रंगरेज, बड़ाबाजार के हमालों की मस्जिद निवासी अजरुदीन उर्फ अजु (19) पुत्र हनीफ छीपा एवं हमालों की बारी रामदेवजी मंदिर के पास रहने वाले सुनील (27) पुत्र शंकरलाल माली को गिरफ्तार किया।

 

गठित की गई टीम
सीआई ने बताया कि तीनों आरोपित नशेड़ी हैं। यह तीनों दो-तीन साल से नशे और महंगे शौक पूरे करने के लिए चोरी कर रहे थे। इनका आपराधिक रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है। टीम में सीओ किरण गोदारा, सीआई बहादुरसिंह के नेतृत्व में उपनिरीक्षक जगदीश सिंह, एएसआई गुलाम नबी, हैड कांस्टेबल विजयसिंह, कांस्टेबल बलबीर व विनोद कुमार शामिल थे।

 

बंद मकान व दुकानों को बनाते निशाना

सीआई बहादुरसिंह ने बताया कि तीनों आरोपितों ने तीन माह में थाना क्षेत्र में पांच चोरी की वारदात करना स्वीकार किया है। आरोपित घरों में घुसकर सोने-चांदी के आभूषण, नकदी एवं दुकानों के ताले तोड़कर मोबाइल चुराते थे। आरोपित चोरी से पहले बंद मकान व दुकान की दो-तीन दिन तक रेकी करते, उसके बाद वारदात को अंजाम देते।

 

खलासी का शव मिला
बीकानेर. नाल थाना क्षेत्र में रविवार को एक ट्रक में खलासी का शव मिला। पुलिस के अनुसार नाल बाइपास टोल नाके के पास खड़े एक ट्रक में शव होने की जानकारी मिली थी। मौके पर पहुंची पुलिस खलासी गुरुमुख सिंह को पीबीएम अस्पताल ले गई, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मौत के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned