बारिश और ओलावृष्टि से फसल खराबा,खेतों में पहुंचे अधिकारी,देखे वीडियो

dinesh swami | Updated: 13 Apr 2018, 02:06:11 PM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

नुकसान की वीडियोग्राफी व फोटोग्राफी करने के निर्देश

लूणकरनसर. तहसील क्षेत्र में बेमौसम बारिश के साथ हुई ओलावृष्टि व तूफान से गेहूं समेत अन्य फसलों में हुए नुकसान को लेकर गुरुवार को उपखण्ड अधिकारी डॉ. रतन कुमार स्वामी ने खेतों में पहुंचकर जायजा लिया।
गौरतलब है कि बुधवार रात ओलावृष्टि से कंवरसेन लिफ्ट नहर क्षेत्र के चक एक एलकेडी, २ एलकेडी, सात एलकेडी, २ बीएचएम, तीन बीएचएम, चारणा वितरिका, भाडेरां वितरिका, कांकड़वाला, सहनीवाला, समेत आस-पास के दर्जनों चकों में हुई ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान पहुंचा है। इसके अलाव अंधड़ से खेतों में पेड़ भी उखड़ गए तथा फसलों की ढेरियों भी खेतों में बिखर गई है।

 

फसल खराबे को लेकर उपखण्ड अधिकारी ने गुरुवार को कांकड़वाला व सहनीवाला क्षेत्र के सीएचडी, बीएचएम व सीएचएम वितरिकाओं से जुड़े दर्जनभर चकों का दौराकर नुकसान जायजा लिया। इससे पहले लूणकरनसर के ग्राम धीरेरां स्टेशन, धीरेरां, उत्तमदेसर, चक ३५१ आरडी, चक ३५७ आरडी, चक डीएलएम समेत कई चक व गांवों में बारिश व ओलावृष्टि से हुए नुकसान को लेकर खेतों में जायजा लिया तथा मौके पर किसानों से वार्ता कर नुकसान की जानकारी ली।

 

उन्होंने बताया कि किसानों के खेतों में हुए नुकसान को सर्वे करवाया जा रहा है तथा नुकसान की रिपोर्ट जिला प्रशासन को भिजवाई जाएगी। तहसील क्षेत्र में ओलावृष्टि व बेमौसम बारिश े हुए नुकसान को लेकर पारदर्शिता रखने के लिए उपखण्ड अधिकारी ने सर्वे के लिए तीन सदस्सीय कमेटी का गठन कर मौके पर पहुंचकर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए है। इसमें नायब तहसीलदार के साथ सम्बन्धित क्षेत्र का भू-निरीक्षक व हल्का पटवारी को शामिल किया गया। सर्वे रिपोर्ट के साथ नुकसान की वीडियोग्राफी व फोटोग्राफी के निर्देश दिए गए है।

 


मुआवजा की मांग
लूणकरनसर. तहसील क्षेत्र में ओलावृष्टि व बारिश से रबी फसलों मेंनुकसान को लेकर गुरुवार को किसानों के प्रतिनिधिमण्डल ने उपखण्ड अधिकारी से मिलकर ज्ञापन सौंपकर सर्वे करवाने तथा प्रभावित किसानों को मुआवजा दिलवाने की मांग उठाई।किसान सभा के धर्मवीर गोदारा, आत्माराम पूनिया व सीताराम पूनिया के नेतृत्व में उपखण्ड अधिकारी डॉ. रतन कुमार स्वामी से मिले प्रतिनिधिमण्डल ने अवगत करवाया कि नहरी सिंचित इलाके में करीब ६० से ७० फीसदी खेतों में गेहूं की फसल खड़ी थी तथा पकने के कारण कटाई चल रही थी।

 

इस दौरान ओलावृष्टि से काफी नुकसान हुआ है। ओलावृष्टि से हुए नुकसान का सर्वे करवाकर मुआवजा दिलवाने की मांग उठाई। खराबे को लेकर प्रधान गोविन्दराम गोदारा ने संभागीय आयुक्त व जिला कलक्टर को ज्ञापन भेजकर अवगत करवाया कि लूणकरनसर क्षेत्र में गत दो दिनों में हुई ओलावृष्टि से किसानों को नुकसान हुआ है। फसल खराबे का सर्वे करवाकर प्रभावित किसानों को सरकार से मुआवजा दिलवाया जाए व बीमा कंपनी से भी क्लेम दिलवा जाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned