नवरात्रा और नवसंवत्सर की तैयारियां परवान पर

सज रहे देवी मंदिर, धर्म पताकाओं से अटे सर्किल और मोहल्ले

 

By: Vimal

Published: 12 Apr 2021, 11:05 AM IST

बीकानेर. चैत्र नवरात्रा 13 अप्रेल से प्रारम्भ होंगे। घर-घर और मंदिरों में तैयारियां परवान पर है। नवरात्रा को लेकर शहर में स्थित देवी मंदिरों को रंग रोगन के बाद रंग बिरंगी रोशनियों से सजाए जा रहे है। नवरात्रा पूजन अनुष्ठान को लेकर घरों में तैयारियां चल रही है। घट स्थापना के साथ नवरात्रा पूजन -अनुष्ठान का आगाज होगा।

 

नौ दिनों तक शक्ति की उपासना होगी। वहीं नवसंवत्सर 2078 की शुरूआत 13 अप्रेल से होगी। नवसंवत्सर के स्वागत को लेकर शहर के विभिन्न सर्किलों और गली-मोहल्लों और मार्गो को धर्म पताकाओं से सजाया जा रहा है। हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं सहित आमजन घर-घर और मोहल्लों में धर्म पताकाएं सजा रहे है। मंच की ओर नवसंवत्सर पर धर्मयात्रा निकालने और महाआरती का कार्यक्रम प्रस्तावित है। मुरलीधर व्यास नगर रोड स्थित किराडू बगेची स्थित मंच के कार्यालय में बड़ी संख्या में लोग धर्म पताकाएं लेने पहुंच रहे है। बाजारों में नवरात्रा को लेकर खरीदारी शुरू हो गई है।

 

नौ दिनों तक होगी देवी की उपासना
ज्योतिषाचार्य पंडित राजेन्द्र किराडू के अनुसार नवरात्रा में मां भगवती की पूजा-अर्चना और व्रत-अनुष्ठान का विशेष महत्व बतलाया गया है। नौ दिनों तक श्रद्धालु देवी के विभिन्न स्वरूपों की पूजा-अर्चना कर मंत्र जाप करते है। पूजन अनुष्ठान की पूर्णाहुति पर मंत्रोचार के बीच हवन में आहुतियां दी जाती है। नवरात्रा की पूर्णाहुति पर देवी स्वरूप कन्याओं के पूजन का विशेष विधान है। घर-घर में घट स्थापना कर स्थापित देवी प्रतिमाओं की तेल, सिंदूर, मालीपाना, बर्ग आदि पूजन सामग्रियों से पूजन कर महाआरती की जाएगी।

Show More
Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned