काफी देर तक कराहती रही घायल युवती, जनप्रतिनिधि पहुंचे तो शुरू किया युवती का उपचार

काफी देर तक कराहती रही घायल युवती, जनप्रतिनिधि पहुंचे तो शुरू किया युवती का उपचार

dinesh swami | Publish: Aug, 12 2018 11:46:00 AM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

पीबीएम के ट्रोमा सेन्टर में पदस्थापित चिकित्सकों पर एक घायल युवती के उपचार में कोताही बरतने के आरोप लगा है।

बीकानेर. पीबीएम के ट्रोमा सेन्टर में पदस्थापित चिकित्सकों पर एक घायल युवती के उपचार में कोताही बरतने के आरोप लगा है। पूगल फांटा निवासी हरि सिंह शनिवार को अपनी पुत्री कृष्णा को घायल अवस्था में ट्रोमा सेन्टर लाए थे। बताया जाता है कि यहां काफी देर तक उसका उपचार शुरू नहीं हुआ।

 

युवती की तबीयत बिगड़ती देख चिकित्सक पहुंचे और उसका सीटी स्केन करवाने को कहा। इस पर युवती के पिता ने असमर्थता जताते हुए चिकित्सकों से दवा लिखने का आग्रह किया। इससे चिकित्सक भड़क गए और मरीज को बाहर ले जाने के लिए कह दिया। इसके बाद करीब एक घंटे तक युवती ट्रोमा सेन्टर के बाहर दर्द से कराहती रही।

 

हरि सिंह ने बताया कि उसकी बेटी शनिवार को दीवार से सिर के बल गिर गई थी। इसके बाद उसे उल्टियां होने लगी। घटना की जानकारी मिलने पर भाजपा नेता मोहन सुराणा, सलीम भाटी, सलीम जोइया और नवरतन ङ्क्षसह मौके पर पहुंचे। उन्होंने युवती के पिता से बातचीत के बाद चिकित्सकों को खरी-खरी सुनाई।

 

सुराणा ने आरोप लगाया कि ट्रोमा सेन्टर में चिकित्सकों की अनदेखी शर्मनाक है। मामले को बढ़ता देख तुरन्त युवती का सीटी स्केन करवाया गया और उपचार शुरू कर दिया गया। सुराणा ने बताया कि मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आरपी अग्रवाल से शिकायत करने के बाद युवती का उपचार शुरू हुआ।

 

 

 

महिला ने निजता भंग का लगाया आरोप

बीकानेर. डॉक्टर के परामर्श केन्द्र पर लगे कैमरे के दुरुपयोग और निजता भंग होने से जुड़ा मामला शनिवार को व्यास कॉलोनी थाने में एक महिला परिवादी ने दर्ज करवाया। पटेल नगर निवासी महिला ने थाने में दी रिपोर्ट बताया कि डॉक्टर के परामर्श केन्द्र पर लगे कैमरे की दिशा उसके बेडरूम और बाथरूम की ओर है। इससे उसकी निजात भंग हो रही है। पुलिस ने महिला की रिपोर्ट के आधार पर सुरेन्द्र बेनीवाल, हेतराम भूकर, रामप्रताप स्वामी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned