शादी समारोह से नकदी-गहने चुराने वाले छह जनों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

शादी समारोह से नकदी-गहने चुराने वाले छह जनों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Anushree Joshi | Publish: Mar, 14 2018 09:06:23 AM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

bikaner राजस्थान के साथ यूपी-हरियाणा में भी की वारदातें

शादी समारोह में मेहमान बनकर शामिल होते और नकदी, गहने व कीमती सामान वाले बैग, पर्स और सूटकेस चोरी कर पार हो जाते। मध्यप्रदेश के राजगढ़ के इस अंतरराज्यीय गिरोह को पुलिस अधीक्षक की ओर से गठित विशेष टीम ने मंगलवार को दबोच लिया। पुलिस पूछताछ में गिरोह ने उत्तरप्रदेश-हरियाणा और राजस्थान में एेसी कई वारदात करना स्वीकार किया है।

 

'राजस्थान पत्रिका' ने 13 मार्च को 'शादी की खुशियों के चोर सक्रिय' शीर्षक समाचार प्रकाशित कर एेसे गिरोह के कारनामे उजागर किए थे। इसमें एक समारोह में की गई वारदात के दौरान वीडियो रिकॉर्डिंग में पकड़ में आए गिरोह के एक चेहरे के फोटो सहित उसका पूरा ब्योरा प्रकाशित किया था। उधर, सोशल मीडिया में भी वारदात करने वालों के फोटो और वीडियो खूब वायरल हुए, जो पुलिस के लिए मददगार साबित हुए और गिरोह पकड़ में आ गया।

 

एमपी के राजगढ़ का गिरोह निकला
पुलिस अधीक्षक सवाईसिंह गोदारा की ओर से गंगशहर थानाधिकारी सुभाष बिजारणिया, बीछवाल थानाधिकारी धीरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में टीम गठित की गई। इसमें तकनीकी सहायता के दीपक की पड़ताल में पता चला कि शादी-समारोह में चोरी की लगातार वारदात करने वाले मध्यप्रदेश की सांसी गैंग के सदस्य हैं।

 

इसी बीच सोशल मीडिया से पुलिस दल को सूचना मिली कि वारदात करने वालों से मिलते-जुलते चेहरे वाले युवकों को पीबीएम के आसपास घूमते हुए देखा गया है। पुलिस दल ने रैन बसेरों, गेस्ट हाउस और सस्ते लॉज आदि में रुके युवकों की भी पड़ताल की। इसमें एमपी के राजगढ़ के सांसी सिसोदिया जाति के गिरोह के छह जने पुलिस के हत्थे चढ़ गए। यह लोग नए कपड़े पहनकर शादी समारोह में घुसकर वारदात करने की फिराक में थे।

 

ये आए गिरफ्त में
पुलिस ने राजगढ़ जिले के हुलखेड़ी निवासी कमलेश उर्फ रवि पुत्र कुमार (32), कडिया थाना बोला निवासी उमराव सिंह उर्फ डावर उर्फ डाबर, गुलखेड़ी थाना बोला निवासी साहिल (20) व रितेश (21), कडिया थाना पंचौर निवासी विकास (18) और निखिल (18) को गिरफ्तार किया है।

 

यहां की वारदात

गिरोह ने राजस्थान में बीकानेर , भीम, अजमेर , नागौर, पुष्कर, डीडवाना में वारदात की हैं। साथ ही मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, हरियाणा में विवाह समारोह में वारदात करना कबूल किया है।

 

सबके काम बंटे हुए
पुलिस पूछताछ में पता चला कि यह छह युवकों का गिरोह है। इनमें से दो युवक शादी समारोह में वारदात को अंजाम देने जाते थे। वे बैग या चोरी का सामान लाकर अपने दो साथियों को देते थे। एक व्यक्ति कीमती सामान व गहने लेकर गांव रवाना हो जाता था, जबकि एक व्यक्ति रुपए बैंक खातों में जमा करवाने का काम करता था।

 

पुलिस टीम में ये शामिल
सीआई सुभाष बिजारणिया, सीआई धीरेन्द्र सिंह, एएसआई ईश्वर सिंह, हवलदार बंशीलाल, सुनिल कुमार, रामकरण, जिले सिंह, साइबर सैल के सिपाही प्रवीण व दीपक, सिपाही वासुदेव, शिवपाल सिंह, महावीर सिंह, कपिल सींवर, बलवान, दिलीप।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned