करो आशापुरा आनंद शहर बीकाणे में..

भक्त पूरणमल रम्मत का हुआ महाभ्यास, कलाकारों ने निभाई भागीदारी

 

By: Ramesh Bissa

Updated: 01 Mar 2020, 12:34 PM IST

बीकानेर.

शहर में होली के मौके पर मंचित होने वाली लोक रम्मतों के पूर्वाभ्यास इन दिनों परवान पर है। शनिवार को बिस्सा चौक में आशापुरा नाट्य कला संस्थान के तत्वावधान में उस्ताद रमणसा बिस्सा की भक्त पूरणमल रम्मत का महाभ्यास किया गया। रम्मत का पूर्वाभ्यास वसंत पंचमी से चल रहा था। शनिवार रात शुरू हुआ महाभ्यास रविवार अल सुबह तक चला। इसमें मुख्य कलाकारों के साथ ही सह गायकों ने भी संवादों का अभ्यास किया। कलाकारों ने पात्रों के अनुसार ओजस्वी संवाद सुनाए। पूर्वाभ्यास का आगाज ' बनो सहायक छन्द बनाने में, करो आशापुरा आनंद शहर बीकाणे में...मां आशपुरा की स्तृति गान से किया गया। इसके बाद कलाकारों ने रम्मत के प्रमुख संवाद 'घोड़ों को कसवा दें हे माली के यार, सांझ भई दिन छिपा की प्रस्तुति दी।

पांच मार्च की रात को होगा मंचन

भक्त पूरणमल रम्मत का मंचन पांच मार्च को मध्य रात्रि को आशापुरा की सजीव झांकी के साथ बिस्सा चौक में होगा। यह रम्मत छह मार्च को सुबह तक चलेगी। आयोजन से जुड़े कृष्णकुमार बिस्सा के अनुसार इस बार रम्मत में राम कुमार, विकास, इंद्र कुमार, मनोज कुमार व्यास, विष्णुदत्त बिस्सा, महेन्द्र, प्रेमरतन गहलोत अभिनय करेंगे। वहीं नगाड़ा वादन मनीष व्यास व हारमोनियम पर गोविन्द गोपाल संगत करेंगे।

यहां भी चल रहा अभ्यास
बिस्सा चौक के अलावा इन दिनों रम्मतों का पूर्वाभ्यास आचार्य चौक, मरुनायक चौक, चौथाणी ओझा चौक, बारहगुवाड़, नत्थूसर गेट के अंदर सहित मोहल्लों में अलग-अलग संस्थाएं रम्मतों का पूर्वाभ्यास कर रही है। तीन मार्च को होलाष्टक शुरू हो जाएंगे। इसी दिन से शहर में रम्मतों का आगाज हो जाएगा। इसके बाद सात दिनों तक शहर होली की मस्ती में डूबा रहेगा।

Ramesh Bissa Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned