सफाई के मुद्दे पर पीबीएम में प्रदर्शन

सफाई के मुद्दे पर पीबीएम में प्रदर्शन
सफाई के मुद्दे पर पीबीएम में प्रदर्शन

Atul Acharya | Publish: Oct, 17 2019 01:03:20 PM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

bikaner news- मोहनसिंह वेलफेयर सोसायटी की ओर से बुधवार को पीबीएम अस्पताल में प्रदर्शन किया गया। पीबीएम में व्याप्त समस्याओं का समाधान कराने की मांग को लेकर ज्ञापन देने पहुंचे पदाधिकारियों को अधीक्षक सीट पर नहीं मिले, जिससे वे आक्रोशित हो गए। बाद में सोसायटी के पदाधिकारियों ने कार्यवाहक अधीक्षक डॉ. मुकेश को ज्ञापन दिया गया।

बीकानेर. मोहनसिंह वेलफेयर सोसायटी की ओर से बुधवार को पीबीएम अस्पताल (pbm hospital) में प्रदर्शन किया गया। पीबीएम में व्याप्त समस्याओं का समाधान कराने की मांग को लेकर ज्ञापन देने पहुंचे पदाधिकारियों को अधीक्षक सीट पर नहीं मिले, जिससे वे आक्रोशित हो गए। बाद में सोसायटी के पदाधिकारियों ने कार्यवाहक अधीक्षक डॉ. मुकेश को ज्ञापन दिया गया।

सोसायटी के अध्यक्ष सोहन सिंह पडि़हार ने बताया कि पीबीएम (pbm) में सफाई पर करोड़ों रुपए खर्च हो रहे हैं। शौचालय गंदगी से अटे हुए हैं। सफाईकर्मी पूरे नहीं हैं, कार्यरत भी निर्धारित वेशभूषा में नहीं हैं। पार्किंग में अवैध वसूली की जा रही है। अस्पताल परिसर में बनी प्याऊ का सुचारू संचालन नहीं हो रहा है। अस्पताल परिसर में जगह-जगह कचरे के ढेर लगे हैं। दुकानों के पास मरीजों के परिजनों के लिए बने प्रतीक्षालय की छत से प्लास्टर गिर रहा है।

तो 15 दिन बाद देंगे धरना
प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने बताया कि समस्याओं का १५ दिन में समाधान नहीं हुआ तो संस्था की ओर से धरना दिया जाएगा। यह धरना समस्याओं का स्थायी समाधान होने तक जारी रहेगा।

प्रतिनिधिमंडल में विक्रमसिंह राजपुरोहित, पवन सुथार, उत्तम चौधरी, मोहम्मद रफीक, अनिल हर्ष, प्रदीप सारस्वत, बजरंग तंवर, रोहिताश व्यास, गणेश सेवग, हेमंत कच्छावा, जसराज सिंवर, दाऊ लेहरी, करण, यश सोनी, हेमंत सुथार आदि शामिल थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned