बीकानेर आ रही ट्रेन में रेलवे पुलिस ने टिकट चेक करते फर्जी टीटी पकड़ा

रेलवे पुलिस ने यात्रियों की टिकट चेक कर रहे फर्जी टीटी को पकड़ा है। वह बिना किसी अधिकार पत्र के ट्रेन में यात्रियों के टिकट चेक कर रहा था।

By: dinesh swami

Published: 26 Jan 2018, 09:10 AM IST

बीकानेर . दिल्ली से बीकानेर आ रही ट्रेन में रेलवे पुलिस ने यात्रियों की टिकट चेक कर रहे फर्जी टीटी को पकड़ा है। वह बिना किसी अधिकार पत्र के ट्रेन में यात्रियों के टिकट चेक कर रहा था। आरपीएफ के जवानों ने जब उसे रंगे हाथों पकड़ा तो उसने अपनी गलती स्वीकार की। आरपीएफ ने उसे बीकानेर में जीआरपी पुलिस को सौंपा है।

 

आरपीएफ पुलिस निरीक्षक एसएस आनंद ने बताया कि दिल्ली सराय रोहिल्ला ट्रेन नंबर १२४५५ दिल्ली से बीकानेर आ रही थी। श्रीगंगानगर से आरपीएफ बीकानेर मंडल की एस्कोर्ट रवाना हुई। रेलवे पुलिस कर्मचारी ट्रेन के कोचों की जांच करते आ रहे थे। लूणकरणसर स्टेशन पर ट्रेन पहुंची तो एस्कार्ट कोच एस-5 नंबर में पहुंचे। उन्होंने देखा कि एक व्यक्ति सादावर्दी में यात्रियों के टिकट चेक कर रहा था। एस्कार्ट ने जाकर उससे अधिकार-पत्र मांगा।

 

रेलवे पुलिस को देखकर वह हड़बड़ा गया और उसने अपने कृत्य के लिए माफी मांगी। चौहान ने बताया कि पकड़ा गया आरोपित नागौर जिले के डीडवाना तहसील के खुनखुना गांव निवासी प्रसनचंद (६५) पुत्र कोमलचंद सिंघवी को गिरफ्तार किया है। आरोपित के पास सूरतगढ़ से बीकानेर तक का साधारण रेलयात्रा टिकट व एक पेन मिला है। आरोपित बगैर रेलवे अनुमति व अधिकार के रेल में यात्रियों के टिकट चेक करता हुआ पाया गया जबकि उक्त कोच में टीटीआई लक्ष्मीनारायण की ड्यूटी थी।

 

रेलवे पुलिस को देख हड़बड़ाया
लूणकरणसर रेलवे स्टेशन पर रेलवे पुलिस जवान एस-5 कोच में पहुंचे। तब एक व्यक्ति यात्रियों के टिकट चेक कर रहा था। रेलवे पुलिस जवानों को उस पर शक हुआ। वे उसके पास पहुंचे तब वह यात्री रमेश कुमार, संजय, शुभम अवस्थी का टिकट चेक कर रहा था। रेलवे पुलिस जवानों को देखते ही वह हड़बड़ा गया। जवानों ने उसे पकड़ लिया और रेलवे एवं जीआरपी के उच्चाधिकारियों को सूचित किया।

 

मामला दर्ज
जीआरपी एसएचओ मूलसिंह ने बताया कि आरपीएफ के एएसआई रतिभान यादव की रिपोर्ट पर आरोपित प्रसनचंद सिंघवी के खिलाफ धारा १७० में मामला दर्ज किया गया है। आरोपित को शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned