रेलवे की अनूठी पहल, बूंद-बूंद पानी की कर रहा बचत

रेलवे की अनूठी पहल, बूंद-बूंद पानी की कर रहा बचत

Anushree Joshi | Publish: Dec, 08 2017 09:21:40 AM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

री-साइकिलिंग से बचाया जा रहा रोजाना सवा लाख लीटर पानी

जल बचत के बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं। जल संरक्षण की सरकारी योजनाएं भी हैं, लेकिन बीकानेर में रेलवे ने एक अनूठी पहल करते हुए इस तरह के दावों को साकार कर दिखाया है। यहां पर रेल डिब्बों और मैकेनाइज्ड लॉड्री में धुलाई के बाद निकलने वाले पानी की री-साइकिलिंग कर सदुपयोग किया जा रहा है। इसके लिए वाशिंग लाइन परिसर में ही वाटर री-साइकिलिंग प्लांट में रोजाना सवा लाख लीटर पानी की बचत की जा रही है। यह पानी व्यर्थ नहीं जाता।

 

हर दिन 120 कोच की धुलाई
बीकानेर की वाशिंग लाइन में रोजाना 120 डिब्बों की धुलाई होती है। इसमें भारी मात्रा में पानी खर्च होता है। रेलवे ने पानी की बचत करने के लिए धुलाई के पानी को दोबारा काम में लेने के लिए री-साइकिलिंग का प्लांट शुरू किया है।

 

लगेगा ऑटोमैटिक प्लांट
बीकानेर में रेल डिब्बों की धुलाई के लिए ऑटोमैटिक प्लांट लगाया जाना प्रस्तावित है। हाल ही में बीकानेर मंडल ने इसके प्रस्ताव तैयार कर मुख्यालय को भेज दिया है। इस पर सहमति आने के बाद इसकी कवायद शुरू होगी। माना जा रहा है कि ऑटोमैटिक प्लांट लगने के बाद भारी मात्रा में पानी की बचत की जाएगी।

 

पानी बचाने का प्रयास
पानी जितना बचाया जा सके, उतना बचाने का प्रयास किया जा रहा है। री-साइकिलिंग के बाद पानी पुन:काम आ रहा है। इससे कोच की धुलाई आसानी से हो रही है।
सीआर कुमावत, वरिष्ठ वाणिज्य मंडल प्रबंधक

 

सर्दी ने ठिठुराया, कोहरे ने बदली ट्रेनों की चाल
सर्दी ने अपना रंग जमाना शुरू कर दिया है। पारे में गिरावट का दौर गुरुवार को भी जारी रहा। शीत हवाओं ने तन को भेदा वहीं कोहरे ने रेल यातायात को प्रभावित किया है। हालांकि दोपहर में अच्छी धूप निकलने से सर्दी से कुछ राहत जरूर मिली। परन्तु शाम ढलने के साथ ही पारा फिर गिरना शुरू हो गया।

 

सर्दी से बचने के लिए लोग घरों में दुबके रहे। शहरी क्षेत्र में सर्दी से बचने के लिए लोगों ने अलाव का सहारा लिया। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को न्यूनतम तापमान 8 डिग्री और अधिकतम 25.5 डिग्री दर्ज किया गया।

 

हावड़ा-आगरा के मध्यम आंशिक रद्द
कोहरे के कारण हावड़ा-श्रीगंगानगर ट्रेन को आगरा ? कैन्ट-श्रीगंगानगर के बीच आंशिक रद्द रहेगी। यह ट्रेन परिवर्तित कर हावड़ा-आगरा कैन्ट-हावड़ा के मध्यम आंशिक रद्द किया गया है। वरिष्ठ वाणिज्य मंडल प्रबंधक ने बताया कि हावड़ा-श्रीगंगानगर ट्रेन 9 दिसंबर से 12 फरवरी तक हावड़ा-आगरा कैन्ट के बीच हावड़ा से रद्द रहेगी।

 

इस ट्रेन का संचालन 9 दिसंबर से 14 फरवरी तक आगरा कैन्ट-श्रीगंगानगर के बीच होगा। इसी तरह श्रीगंगानगर-हावड़ा ट्रेन 10 दिसंबर से 14 फरवरी तक आगरा कैन्ट व हावड़ा के बीच रद्द रहेगी। वहीं 10 दिसंबर से 13 फरवरी तक श्रीगंगानगर व आगरा कैन्ट के बीच चलेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned