scriptrajasthan news- wine shop | घट गई शराब दुकानें, अब इतनी दुकानों पर ही बिकेगी शराब | Patrika News

घट गई शराब दुकानें, अब इतनी दुकानों पर ही बिकेगी शराब

घट गई शराब दुकानें, अब इतनी दुकानों पर ही बिकेगी शराब

बीकानेर

Published: April 01, 2022 10:09:34 am

बीकानेर. जिले में शराब दुकाने घट गई हैं। यह पहली बार है जब जिले में निर्धारित 226 दुकानें होने के बावजूद एक अप्रेल नए सत्र से केवल 108 दुकानों पर ही शराब बिकेगी। जानकारी के मुताबिक 118 दुकानों का ठेकेदारों ने नवीनीकरण नहीं कराया है, जिस कारण 118 दुकानें बंद रहेंगी।
घट गई शराब दुकानें, अब इतनी दुकानों पर ही बिकेगी शराब
घट गई शराब दुकानें, अब इतनी दुकानों पर ही बिकेगी शराब
दो चरणों में बिकीं महज 22 दुकानें

सरकार की ओर से बीकानेर जिले के लिए 226 दुकानें निर्धारित कर रखी हैं। सरकार की नई आबकारी नीति ने शराब कारोबारियो का मोहभंग कर दिया है। शराब कारोबारी इसे घाटे का सौदा बता कर दुकानें लेने में रुचि नहीं ले रहे हैं। यही वजह है कि इस बार 140 ठेकेदारों ने शराब दुकानों का नवीनीकरण नहीं कराया। ऐसे में सरकार को नवीनीकरण नहीं होने वाली दुकानों की नीलामी करनी पड़ी। नीलामी में भी 140 में से केवल 22 दुकानों की नीलामी हो सकी है।
अब तक 220 करोड़ का नुकसान
आबकारी विभाग को शराब दुकानों से 361 करोड़ का राजस्व मिलना था लेकिन इस बार केवल 108 दुकानें आबंटित होने से महज 141 करोड़ का ही राजस्व मिल सका है। आबकारी विभाग दो चरणों की नीलामी कर चुका है। जिला आबकारी अधिकारी भवानीसिंह ने बताया कि दुकानों की नीलामी के पहले चरण के तहत 42 दुकानों में से केवल आठ दुकानें ही बोली में छूटीं। 23 और 24 मार्च को 42-42 दुकानों और 25 मार्च को 14 दुकानों की नीलामी हुई। नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के बावजूद 118 दुकानें नीलाम नहीं हो सकी है। 108 दुकानों से 141 करोड़ का राजस्व मिला है।
118 दुकानों के लिए सरकार से मांगा मार्गदर्शन
जिला आबकारी अधिकारी डॉ. राठौड़ ने बताया कि ई नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के बाद भी 118 दुकानें आबंटित नहीं हो सकी हैं। ऐसे में अब इन दुकानों के संबंध में राज्य सरकार से मार्गदर्शन मांगा गया है।
ठेकेदारों में मायूसी, कारोबार ठप
ठेकेदार सरकार की नई आबकारी नीति से परेशान हो गए हैं। नई नीति के कारण शराब ठेकेदार कर्जदार हो गए। रही सही कसर कोरोना ने पूरी कर दी। एक शराब कारोबारी का कहना है कि नई नीति और कोरोना से बहुत घाटा हुआ है। ऐसे में दुकान लेना घाटे का सौदा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

BJP राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: PM नरेंद्र मोदी ने दिया 'जीत का मंत्र', जानें प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातेंबिहार में बारिश व वज्रपात से 37 लोगों की मौत, जानिए बिहार में क्यों गिरती है इतनी आकाशीय बिजली?Pegasus Spyware Case: सुप्रीम कोर्ट ने जांच समिति का कार्यकाल 4 हफ्ते बढ़ाया, अब जुलाई में होगी सुनवाईRaj Thackeray Ayodhya Visit: राज ठाकरे की अयोध्या यात्रा स्थगित, पांच जून को रामलला का दर्शन करने वाले थे मनसे प्रमुखRohit Joshi Rape Case: राजस्थान के मंत्री पुत्र ने अब युवती पर लगाया हनीट्रेप का आरोप, हाईकोर्ट में याचिकापाकिस्तानी विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने अमरीका में छेड़ा कश्मीर राग, आर्टिकल 370 का भी किया जिक्र, कहा शांति चाहता है पाकिस्तानलालू के ठिकानों पर CBI Raid; सामने आई RJD की पहली प्रतिक्रिया, मात्र 5 शब्द में पूरे सिस्टम को लपेटाअनिल बैजल के इस्तीफे के बाद कौन होगा दिल्ली का उपराज्यपाल? चर्चा में हैं ये 5 नाम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.