जेको चवन्दो झूलेलाल तहिन्जा थिन्दा बेड़ा पार...

बीकानेर. सिंधी समाज की ओर से मनाए जा रहे चेटीचंड महोत्सव के तहत बुधवार को कई कार्यक्रम हुए। जूनागढ़ के सामने जल में ज्योति जगमग झूलेलालजी कार्यक्रम हुआ। इसमें 'जेको चवन्दो झूलेलाल तहिन्जा थिन्दा बेड़ा पार...के जयकारे लगाए गए। सूरसागर के समीप सिंधी लोक कला भगत की प्रस्तुति भी सिंधी समाज के लोक कलाकारों ने दी।

By: dinesh swami

Updated: 04 Apr 2019, 03:20 PM IST

बीकानेर. सिंधी समाज की ओर से मनाए जा रहे चेटीचंड महोत्सव के तहत बुधवार को कई कार्यक्रम हुए। जूनागढ़ के सामने जल में ज्योति जगमग झूलेलालजी कार्यक्रम हुआ। इसमें 'जेको चवन्दो झूलेलाल तहिन्जा थिन्दा बेड़ा पार...के जयकारे लगाए गए। सूरसागर के समीप सिंधी लोक कला भगत की प्रस्तुति भी सिंधी समाज के लोक कलाकारों ने दी। इसमें बड़ी संख्या में समाज के लोग शामिल हुए। संत कंवर राम सिन्धी समाज ट्रस्ट, भारतीय सिन्धु सभा, मातृशक्ति सत्संग मंडली, सिंधी सेंट्रल पंचायत सहित समाज की ओर से सात दिवसीय चेटीचंड महोत्सव मनाया जा रहा है। कार्यक्रम में रुक्मणी, जया, कलावन्ती, कान्ता, मधु, वर्षा, पूनम, ममता आदि ने सिन्धी लोकनृत्य छेज (डांडिया, गरबा) से समा बांध दिया। कमलेश सत्यानी, भूलचंद गोकानी, हासानंद मंघवानी आदि ने पल्लव डाला व शांति की अरदास की।

 

चेटीचंड महोत्सव छह अप्रेल को मनाया जाएगा
रथखान कॉलोनी व सुदर्शना नगर स्थित श्रीअमरलाल मंदिर ट्रस्ट की ओर से छह अप्रेल को चेटीचंड महोत्सव मनाया जाएगा। हिरानंद रिझवानी ने बताया कि सुबह नौ बजे पवनपुरी में व दस बजे रथखाना कॉलोनी में झंडारोहण व महाआरती होगी। दस से १२ बजे तक सत्संग होगा। साढ़े १२ बजे भंडारा होगा।

 

dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned