अब तक 48 हजार बोरी मूंगफली की खरीद

dinesh swami

Publish: Nov, 15 2017 02:25:13 PM (IST)

Bikaner, Rajasthan, India
अब तक 48 हजार बोरी मूंगफली की खरीद

अब तक 48 हजार बोरियां मूगफली की तुलाई हो चुकी है लेकिन खरीद को एक बार में 25 क्विंटल की बाध्यता के चलते इस बार किसानों का रूझान कम है

लूणकरनसर. सरकार द्वारा राजफैड के माध्यम से लूणकरनसर के खरीद केन्द्र पर क्रय-विक्रय सहकारी समिति द्वारा चल रही तुलाई में अब तक 48 हजार बोरियां मूगफली की तुलाई हो चुकी है लेकिन खरीद को एक बार में 25 क्विंटल की बाध्यता के चलते इस बार किसानों का रूझान कम है तथा कम दामों में अपनी उपज बाजार में बेचनी पड़ रही है।

 

क्रय-विक्रय सहकारी समिति के मुख्य व्यवस्थापक नोपाराम भाकर ने बताया कि मंगलवार को खरीद केन्द्र पर 720 किसानों के करीब 48 हजार बेारियों की खरीद की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि ऑनलाइन टॉकन के आधार पर खरीद केन्द्र पर मिलने वाले किसानों की तुलाई को देखते हुए समिति द्वारा तुलाई करवाई जा रही है व रोजाना करीब 100 किसानों की उपज तुलाई हो रही है।

 

रूझान कम हुआ
सरकारी खरीद के बावजूद किसानों का रूझान कम है तथा मजबूरन तकरीबन एक से डेढ़ हजार रुपए कम कीमत में अपनी उपज बाजार में बेचनी पड़ रही है। बाजार में किसानों की मूंगफली के दाम २७०० से ३८०० रुपए प्रति क्विटंल मिल रहे है। ऐसी स्थिति में किसानों को लाखों रुपए का नुकसान हो रहा है।

 

आज शुरू होगी मूंगफली की सरकारी खरीद
खाजूवाला. पंचायत समिति के अन्तर्गत किसानों की समर्थन मूल्य पर मूंगफली की सरकारी खरीद बुधवार से नई धान मंडी में शुरू होगी। कनिष्ठ लिपिक सुनील कुमार सिंह ने बताया की जिन किसानों ने मूंगफली समर्थन मूल्य पर तुलवाने के लिए पंजीयन करवाया था और संदेश से तारीख मिली है।

 

उसी अनुसार बेच सकता है। बुधवार से क्रय विक्रम सहकारी समिति के माध्यम से नई धान मंडी में सरकारी खरीद शुरू की जाएगी। मंगलवार को उपखण्ड अधिकारी रमेश देव, तहसीलदार सुरजभान व चेयरमैन भागीरथ ज्याणी ने खरीद केन्द्र का निरीक्षण किया। इस दौरान व्यापारियों ने मूंगफली खरीद के साथ मूंग की खरीद करने के लिए मांग रखी। मुख्य व्यवस्थापक डॉ मनमोहन सिंह ने जल्द शुरू करवाने का आश्वासन दिया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned