सड़कों पर घूम रहे गोशाला में छोड़े गोधे

नगर निगम की सरह नथानिया गोशाला में छोड़े गए गोधे शहर की सड़कों पर घूम रहे है। टैग लगे गोधों के सड़कों पर घूमने से निगम की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे है। गोशाला में बिना किसी उचित व्यवस्था के छोड़े गए गोधों के लिए गोशाला में चारे-पानी की भी उचित व्यवस्था नहीं है।

By: Nikhil swami

Published: 03 Mar 2019, 09:01 PM IST

 

बीकानेर. नगर निगम की सरह नथानिया गोशाला में छोड़े गए गोधे शहर की सड़कों पर घूम रहे है। टैग लगे गोधों के सड़कों पर घूमने से निगम की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे है। गोशाला में बिना किसी उचित व्यवस्था के छोड़े गए गोधों के लिए गोशाला में चारे-पानी की भी उचित व्यवस्था नहीं है।

 

निगम की ओर से गोधो की देखभाल के लिए रविवार तक एक भी कार्मिक को तैनात नहीं किया गया। शहर में २८ फरवरी को पकड़े गए १५ गोधों को ठेकेदार फर्म ने उसी दिन सरह नथानिया स्थित गोशाला में छोड़ा था। बताया जा रहा है कि गोधे पकडऩे वाली फर्म और गोशाला में निर्माण कार्य कर रही फर्म के संचालक की ओर से ही इन गोधो के लिए चारे-पानी की व्यवस्था की गई।

 

गोशाला में गोधों को छोडऩे के बाद निगम ने इनकी सुध तक नहीं ली। गोशाला में गोधों की देखरेख के लिए किसी कर्मचारी की नियुक्ति नहीं होने से कई गोधे गोशाला से बाहर निगल गए और शहर की सड़कों पर फिर से घूम रहे है।

 

सड़कों पर घूम रहे टैग लगे गोधे

निगम की ओर से २८ फरवरी को जिन गोधों को सरह नथानिया स्थित गोशाला में छुड़वाया गया था उसमें से कई गोधे टैग लगे हुए बजरंग धोरा रोड, पूगल रोड, पुलिये के पास घूमते मिले। गोधो के कान पर लगे आसमानी टैग पर नम्बर ५०४४, ५०३७ और ५३११ लिखे हुए थे।

 

बताया जा रहा है कि ये टैग २८ फरवरी को पकड़े गए गोधो के कानों पर लगाए गए थे। क्षेत्रवासियों ने बताया कि इनके अलावा और भी गोधे है जिनके टैग लगे हुए है और सड़कों पर घूम रहे है।

Nikhil swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned