प्रदेश सरकार ने ना गायों को बख्शा न गरीबों को, नौजवानों को भी ठगा

सीकर सांसद स्वामी सुमेधानंद सरस्वती के निशाने पर रही प्रदेश सरकार

By: Vimal

Updated: 21 Jan 2021, 03:11 PM IST

बीकानेर. प्रदेश में विकास ठप है। कानून व्यवस्था की स्थिति पटरी से उतरी हुई है। अपराध बढ़े है। बच्चे और महिलाएं असुरक्षित है। बुधवार को नगर पालिका चुनाव को लेकर बीकानेर पहुंचे सीकर सांसद स्वामी सुमेधानंद सरस्वती ने प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि अशोक गहलोत अपने कुनबे को बचाने में जुटे है। कांग्रेस पार्टी और प्रदेश सरकार बंटी हुई है। जनता त्रस्त और दुखी है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने ना गायों को बख्शा है और ना ही गरीबों को। बेटियों को सुविधाएं भी नहीं मिल रही है। गायों का पैसा अन्य मदों में खर्च करने के लिए कानून में संशोधन किया गया। बिजली के बिलों में बेतहाशा बढ़ोतरी की। प्रदेश में चार बार पेट्रोल डीजल पर वैट बढ़ाया गया है। सांसद ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में 27 लाख बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने का वादा किया था, लेकिन दो साल के कार्यकाल में यह वादा भी पूरा नहीं हुआ है। प्रदेश सरकार ने बेरोजगार नौजबानों को भी ठगा है।

इस अवसर पर देहात भाजपा जिलाध्यक्ष ताराचन्द सारस्वत, शहर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष सत्य प्रकाश आचार्य, भाजपा नेता मोहन सुराणा, अशोक प्रजापत आदि उपस्थित रहे। इस दौरान सीकर सांसद ने नगर पालिका चुनाव को लेकर स्थानीय भाजपा नेताओं से चर्चा की।

 

तीनों पालिकाओं में बनेगा भाजपा का बोर्ड
सीकर सांसद ने कहा कि प्रदेश की जनता प्रदेश सरकार के दो साल के शासन से दुखी और परेशान है। जिले की नोखा, देशनोक और श्रीडूंगरगढ़ पालिकाओं में भाजपा का प्रदर्शन अच्छा रहेगा। जनता भाजपा का बोर्ड बनाएगी।

 

अनुशासन सर्वोपरि
सांसद स्वामी सुमेधानंद सरस्वती ने कहा कि भाजपा अनुशासित कार्यकर्ताओं की पार्टी है। अनुशासनहीनता किसी भी स्तर पर स्वीकार्य नहीं होती है। बीकानेर जिला परिषद चुनाव में भाजपा सदस्यों की ओर से कांग्रेस उम्मीदवार के पक्ष में क्रॉस वोटिंग के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसकी जानकारी प्रदेश नेतृत्व के पास है। पार्टी नियम तोडऩे वालों के लिए पार्टी नियमों के तहत कार्यवाही की व्यवस्था है।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned