scriptstock of inflammable substance | खुलेआम बिक रहा डीजल-पेट्रोल, प्रशासन कर रहा हादसे का इंतजार | Patrika News

खुलेआम बिक रहा डीजल-पेट्रोल, प्रशासन कर रहा हादसे का इंतजार

locationबीकानेरPublished: Dec 28, 2023 05:54:11 pm

Submitted by:

Hari Singh

ज्वलनशील पदार्थ का स्टॉक, आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत नहीं होती कार्रवाई

खुलेआम बिक रहा डीजल-पेट्रोल, प्रशासन कर रहा हादसे का इंतजार
खुलेआम बिक रहा डीजल-पेट्रोल, प्रशासन कर रहा हादसे का इंतजार

छतरगढ़. तहसील के ग्रामीण क्षेत्रों में 50 से ज्यादा अवैध पेट्रोल पंप संचालित हो रहे हैं। यहां चाय और किराने की छोटी-छोटी गुमटियों के बाहर लाल व नीला पेट्रोल और डीजल मिल जाएगा। इनमें पेट्रोल पंप से चार-पांच रुपए सस्ता तो कहीं महंगे दाम पर पेट्रोल व डीजल आसानी से मिल जाएगा। किराना संचालकों ने गलियों में दुकानों पर पेट्रोल और डीजल जैसे ज्वलनशील पदार्थ का स्टॉक रखा है। दुकानदार पंजाब से चोरी छिपे लाकर सस्ते दामों में वाहन चालकों को पेट्रोल डीजल उपलब्ध करवा रहे हैं। इन्हें न प्रशासनिक कार्रवाई का डर है और न ही किसी हादसे का। प्रशासन हादसे का इंतजार कर रहा है। जब कोई हादसा जानलेवा साबित होगा। तब ही प्रशासन की ओर से कार्रवाई की जाएगी।

यहां अवैध कारोबार
तहसील मुख्यालय सहित दामोलाई, खारबारा, खारवाली, आरडी 507 हेड, सतासर-आरडी 682 हेड स्थित नेशनल हाईवे, लाखूसर, मोतीगढ़, सादोलाई, गोरीसर, कृष्णनगर, रामनगर समेत भीड़ के इलाकों में बेखौफ डीजल व पेट्रोल को बेचने का अवैध कारोबार चल रहा है।

बिना लाइसेंस के ज्वलनशील पदार्थ का स्टॉक रखना गैर कानूनी
गौरतलब है कि वैध पेट्रोल पंप के अलावा कहीं भी बिना लाइसेंस के खुले अथवा घर पर तय सीमा से अधिक ज्वलनशील पदार्थ का स्टॉक रखना गैर कानूनी है। पकड़े जाने पर आवश्यक वस्तु अधिनियम की कार्रवाई का प्रावधान है। इसके बाद भी छोटे छोटे दुकानदार यह गैर कानूनी कार्य खुलेआम कर रहे हैं। जिम्मेदार खाद्य विभाग और पुलिस प्रशासन दोनों भी इस मामले में शांत बैठे हैं।

कार्रवाई करेंगे
अवैध तरीके से पेट्रोल डीजल बेचने की जानकारी मिली है। ज्वलनशील पदार्थ का स्टॉक रखना गैर कानूनी है। पुलिस को भी कार्रवाई करने का अधिकार है। फिर भी उपखंड अधिकारी व पुलिस को साथ लेकर कार्रवाई करेंगे।
भागूराम महला, डीएसओ, बीकानेर
बीकानेर उपखंड क्षेत्र में बड़े पैमाने पर अवैध रूप से डीजल बेचने की जानकारी मिली है। इस संबंध में शीघ्र कार्रवाई की जाएगी।
राजेंद्र कुमार वर्मा, एसडीएम, छतरगढ़

ट्रेंडिंग वीडियो