छात्र संघ चुनाव : तैयारियों में जुटे छात्र नेता, एबीवीपी ने निकाली गर्जना रैली

कैम्पस राजनीति : छात्रसंघ चुनाव पर संशय बरकरार, लेकिन फिर भी तैयारियों में जुटे छात्र संगठन

By: अनुश्री जोशी

Published: 22 Aug 2017, 11:58 AM IST

छात्रसंघ चुनाव को लेकर भले ही संशय बना हुआ हो, लेकिन छात्र संगठनों ने तैयारियों में कमी नहीं आने दी है। अन्य जिलों में टिकट वितरण की घोषणा के बाद छात्रों का उत्साह और बढ़ गया है। इस बीच सोमवार को एेसी चर्चा भी रही कि एबीवीपी और एनएसयूआई टिकट वितरण की घोषणा मंगलवार को कर सकते हैं। एेसे में महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में छात्रसंघ अध्यक्ष सहित विभिन्न पदों की दावेदारी जताने वाले सक्रिय हो गए है।

 

सोमवार को विभिन्न पदों की दावेदारी रखने वाले अभ्यर्थी प्रदेश पदाधिकारियों के यहां डेरा डाले रहे। एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष रामनिवास कूकणा ने बताया कि टिकट वितरण की घोषणा मंगलवार को होने की संभावना हैं, हालांकि इस संबंध में सोमवार देररात तक कोई अधिकृत जानकारी नहीं मिली पाई थी।

 

रैलियों का दौर जारी
उधर छात्रसंघ चुनाव की तिथि नजदीक देख विभिन्न पदों पर उम्मीदवारों ने अपनी दावेदारी को मजबूत करने के लिए रैलियों और जनसंपर्क अभियान तेज कर दिया है। सोमवार को भी विभिन्न छात्र संगठनों के पदाधिकारियों ने रैलियां निकालकर छात्र-छात्राओं का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट करने का प्रयास किया।

 

एबीवीपी ने निकाली गर्जना रैली

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से जुड़े छात्रों और पदाधिकारियों ने सोमवार को छात्र गर्जना रैली निकालकर महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में व्याप्त अव्यवस्था की ओर ध्यान आकृष्ट करवाया। रतनबिहारी पार्क से कलक्ट्रेट तक निकाली गई इस रैली में शामिल पदाधिकारियों व विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए एबीवीपी के प्रदेश मंत्री संदीप ने कहा कि परिषद ने समय-समय पर आन्दोलन कर सरकार का ध्यान आकृष्ट किया, लेकिन ध्यान नहीं दिया।

 

विद्यार्थी परिषद छात्र गर्जना रैली के माध्यम से सरकार को बताना चाहती है कि एबीवीपी छात्र हितों के लिए सड़कों पर आने के लिए तैयार है। विभाग के संगठन मंत्री श्याम सिंह ने बताया कि परिषद की मांगों को कलक्टर के माध्यम से शिक्षा मंत्री तक पहुंचाया जाएगा। सोमवार को छात्रों के एक प्रतिनिधिमण्डल ने जिला कलक्टर से मिलकर उन्हें वस्तुस्थिति से अवगत करवाया। रैली संयोजक पिंटू सिंह थे।

 

मतदाता सूची प्रकाशित
छात्रसंघ चुनाव के लिए राजकीय डूंगर महाविद्यालय में मतदाता सूची का प्रकाशन सोमवार को कर दिया गया। चुनाव के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि समस्त विद्यार्थी नोटिस बोर्ड पर चस्पा सूची में नाम देख सकते हैं। सूची पर विद्यार्थी अपनी आपत्ति मंगलवार को सुबह 10 से 1 बजे तक मुख्य निर्वाचन अधिकारी के समक्ष दर्ज करवा सकते हैं।

 

इसी तरह संभाग मुख्यालय के अन्य एमएस गल्र्स कॉलेज सहित विभिन्न महाविद्यालयों में मतदाता सूचियों का प्रकाशन किया गया। दूसरी तरफ छात्र संघ चुनाव का रंग कॉलेज कैम्पस के बाहर शहर के मुख्य मार्गों पर भी दिखने लगा है। छात्र-छात्राएं रैली के रूप में वाहनों पर सड़कों से गुजरते हैं। सोमवार को भी छात्र नेताओं ने शहर में रैली निकाली।

 

अब 4 सितंबर को एक साथ होगी मतगणना
प्रदेश में अब सभी कॉलेज-विश्वविद्यालयों में छात्रसंघ चुनाव के बाद मतगणना एकसाथ 4 सितंबर को ही होगी। उच्च शिक्षा विभाग ने इस संबंध में रविवार देर रात आदेश जारी कर दिए। उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने बताया कि 4 सितंबर को उदयपुर संभाग में चुनाव होंगे। इसके बाद उसी दिन एकसाथ सभी जगह के लिए मतगणना होगी। गौरतलब है कि उदयपुर में 29 अगस्त को पीएम मोदी के दौरे के मद्देनजर उदयपुर संभाग में चुनाव की तिथि बदली गई थी। अब फिर से चुनाव कार्यक्रम में संशोधन कर मतगणना तिथि बदली गई है।

 

पहले विवि और कॉलेजों में मतगणना और मतदान का कार्यक्रम एक ही दिन का था। उदयपुर संभाग के कॉलेज-विवि में चुनाव 4 सितम्बर को होंगे जबकि अन्य प्रदेश के अन्य कॉलेज-विवि में 28 अगस्त को हो जाएंगे। अब सभी की मतगणना 4 सितंबर को होने के कारण अन्य कॉलेज-विवि को नतीजों के लिए इन्तजार करना होगा।

Show More
अनुश्री जोशी
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned