scriptswachta Survey -2022 | अपने शहर को अव्वल बनाने का मौका | Patrika News

अपने शहर को अव्वल बनाने का मौका

अगले महीने होगा शहर में स्वच्छता सर्वेक्षण

7500 अंकों का सर्वेक्षण, निगम जुटा तैयारियों में

बीकानेर

Published: February 20, 2022 05:28:11 pm

बीकानेर. देश के सबसे स्वच्छ शहरों की पहचान कर उन्हें रैंकिंग देने के लिए अगले महीने स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 होगा। स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए इस बार 7500 अंक निर्धारित हैं। देशभर के ४३२० शहर स्वच्छता सर्वेक्षण में शामिल हो रहे है। स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में पिछड़े नगर निगम ने इस बार रैंकिंग में सुधार के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। स्वच्छता सर्वेक्षण 1 से 28 मार्च तक होगा। सर्वेक्षण के लिए टीम बीकानेर पहुंचेगी और भौतिक सत्यापन कर अंक प्रदान करेगी। रैंकिंग की प्रक्रिया के तहत नगर निगम में डॉक्यूमेंट अपलोड करने की प्रक्रिया चल रही है।

अपने शहर को अव्वल बनाने का मौका
अपने शहर को अव्वल बनाने का मौका

होर्डिंग-बैनर से करेंगे जागरूक
स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए निगम होर्डिंग-बैनर के माध्यम से आमजन को जागरूक करेगा। निगम की एसबीएम शाखा के प्रभारी अधिकारी ओपी गोदारा के अनुसार सर्वेक्षण के दौरान होने वाले फीडबैक के लिए लोगों को जागरूक किया जाएगा। इसके लिए शहर में स्थित शौचालयों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड, ऑटो स्टैण्ड, बाजारों, मुख्य मार्गों, सार्वजनिक स्थलों, सर्क लों पर सर्वेक्षण को लेकर होर्डिंग-बैनर लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सर्वेक्षण में सिटीजन वॉयस के लिए २२५० अंक निर्धारित है।

सर्विस लेवल प्रोग्रेस के सर्वाधिक अंक

स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 में सर्विस लेवल प्रोग्रेस के सर्वाधिक 3000 अंक निर्धारित हैं। एसबीएम प्रभारी के अनुसार सर्विस लेवल प्रोग्रेस में सेग्रीकेशन के लिए 900 अंक, सीवरेज-सेनीटेशन के 900 अंक और कचरा प्रोसेसिंग-डिस्पोजल के लिए 1200 अंक निर्धारित हैं। 7500 अंकों के सर्वेक्षण में सिटीजन वॉयस के लिए 2250 अंक, प्रमाणीकरण के लिए 2250 अंक निर्धारित हैं। वर्ष 2021 में हुआ स्वच्छता सर्वेक्षण 6000 अंकों का था।

सिटीजन वॉयस व कचरा पृथक्करण में कमजोर
शहर में चल रहे स्वच्छता संबंधी कार्यों और निगम सेवाओं से अब भी आमजन संतुष्ट नहीं है। सर्वेक्षण में सिटीजन वॉयस के लिए 3000 अंक हैं। सर्वेक्षण के दौरान सफाई कार्यों को लेकर अगर आमजन की राय संतुष्टिपूर्वक रहती है, तो रैंकिंग में सुधार की उम्मीद की जा सकती है। वहीं कचरा पृथक्करण का कार्य भी अब तक सिरे नहीं चढ़ पाया है।

स्वच्छता रैंकिंग में बीकानेर
वर्ष 2021 में हुए स्वच्छता सर्वेक्षण में बीकानेर शहर देशभर में 239 वें स्थान पर रहा। वहीं स्वच्छता सर्वेक्षण में बीकानेर शहर वर्ष 2020 में 179 वें स्थान पर, वर्ष 2019 में 295 वें स्थान पर, वर्ष 2018 में 278 वें स्थान पर और वर्ष 2017 में हुए स्वच्छता सर्वेक्षण की रैंकिंग में 319 वें स्थान पर रहा था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: 14 ओवर के बाद आरसीबी 3 विकेट के नुकसान पर 111 रनपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.