बीटीयू करेगा 38 तकनीकी महाविद्यालयों की ग्रेडिंग, सभी कॉलेजों को 18 मानदंडों पर बतानी होगी स्थिति, देखें वीडियो

प्रक्रिया शुरू, मई में जारी की जाएगी ग्रेडिंग

By: अनुश्री जोशी

Published: 25 Apr 2018, 09:49 AM IST

बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय (बीटीयू) के संबद्ध इंजीनियरिंग कॉलेजों में ग्रेडिंग प्रक्रिया शुरू हो गई है। बीटीयू के अधीन प्रदेश के 38 कॉलेज हैं और इन्हें अगले माह तक ग्रेडिंग दिए जाने की संभावना है। विश्वविद्यालय प्रशासन का उद्देश्य है कि कॉलेजों को ग्रेडिंग मिलने से विद्यार्थियों व अभिभावकों को प्रवेश लेते समय कॉलेज की कैटेगरी और उसमें मूलभूत सुविधाओं की जानकारी मिल सके।

 

बीटीयू के अधीन बीकानेर व जोधपुर के संभाग के सभी जिलो के अलावा नागौर, अजमेर , अलवर, सीकर और झुंझुनूं, बाड़मेर के कुल 38 कॉलेज हैं। विश्वविद्यालय कुलपति ने बताया कि हर साल ग्रेडिंग की जाएगी, ताकि सभी कॉलेजों को आगे बढऩे का अवसर मिल सके और काम नहीं करने वाले कॉलेजों के अंक कम होने पर उन्हें प्रोत्साहित कर सकेंगे।

 

प्राचार्य करेंगे तय
कुलपति एचडी चारण ने बताया कि प्राचार्य खुद अपने कॉलेज की रैंकिंग तय करेंगे। वे खुद नंबर देंगे तथा इसके बाद विश्वविद्यालय स्तर पर जांच होगी। पूर्ण परीक्षण के बाद अधिकृत तौर पर विश्वविद्यालय प्रशासन नंबर घोषित करेगा।

 

1000 नंबरों से ग्रेडिंग
विवि की ओर से एक हजार नंबरों में से ग्रेडिंग दी जाएगी। इन नंबरों के आधार पर कॉलेज को 'ए', 'बी' व 'सी' ग्रेड दी जाएगी। इसमें 600 से ऊपर अंक पर 'ए',400 से 600 के बीच अंब पर 'बी' और 400 से नीचे अंक पर 'सी' ग्रेड दी जाएगी।

 

18 मानदंड होंगे निरीक्षण में
कुलपति ने बताया कि सभी कॉलेजों को 18 मानदंडों पर अपनी स्थिति बतानी होगी। प्रत्येक मानदंड पर संबंधित कॉलेज को नंबर दिए जाएंगे। कॉलेज में विद्यार्थियों को दी जाने वाली मूलभूत सुविधाओं का भी ग्रेडिंग पर असर पड़ेगा। इन सुविधाओं में कॉलेज में सड़क, एटीएम व कैंटीन की सुविधा भी शामिल है।

 

अभियांत्रिकी महाविद्यालयों को यह भी बताना होगा कि उनके यहां पढ़े कितने विद्यार्थियों को रोजगार और कितना पैकेज मिला है। कॉलेज के किसी छात्र को तीन लाख से अधिक रुपए का पैकेज मिला है तो उसके नंबर अधिक होंगे और इससे कम पैकेज होगा तो नंबर भी कम होंगे। साथ ही कॉलेज में प्रवेश संख्या, उत्तीण-फेल विद्यार्थियों के बारे में भी बताना होगा।

 

चारण ने शुरू की प्रक्रिया
कोटा तकनीकी विवि में डीन (अकादमिक) रहते हुए चारण ने ही ग्रेडिंग की प्रक्रिया शुरू की थी। इसके बाद अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने इसे सराहते हुए देशभर में लागू करने की सिफारिश की थी। &अप्रेल तक सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों से सभी दस्तावेज आ जाएंगे। इसके बाद मई में ग्रेडिंग की लिस्ट जारी कर देंगे। इनकी ग्रेडिंग वेबसाइट पर अपलोड करेंगे।
प्रो. एचडी चारण, कुलपति, बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय

Show More
अनुश्री जोशी
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned