सड़क पर थम नहीं रहा लूट का सिलसिला

पिछली वारदातें खुली नहीं, हो गई एक और वारदात

By: Jaiprakash

Updated: 21 Jan 2021, 04:59 AM IST

बीकानेर। बीकानेर में सरेआम सड़क पर लूट का सिलसिला थम नहीं रहा है। पिछली लूट की वारदातें खुली नहीं और बुधवार देररात को फिर एक व्यापारी के साथ लूट हो गई। दुकान से घर जा रहे दुकानदार को बाइक सवार बदमाश मारपीट कर रुपयों से भरा बैग छीन कर ले गए। वारदात का पता चलने पर नयाशहर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने जिले में नाकाबंदी कराई लेकिन लूटेरे हाथ नहीं लगे।


सीओ सिटी सुभाष शर्मा ने बताया किं पूगल रोड स्थित बस स्टैंड के पास खळ-चूरी की दुकान करने वाला बंगलानगर निवासी रामनिवास पुत्र रामेश्वरलाल कस्वां बुधवार रात करीब नौ बजे दुकान बंद कर घर जा रहा था। वह डूडी पेट्रोल पंप के पास वाली गली से बंगलानगर घर जा रहा था। तभी बाइक पर दो युवक मुंह पर कपड़ा बांधे हुए आए। बाइक सवार युवकों ने दुकानदार रामनिवास की बाइक के आगे खुद की बाइक लगाकर रुकवाया। आरोपियों ने उसके साथ मारपीट कर बैग छीन लिया और भाग गए। बैग में एक लाख २० हजार रुपए थे। यह रुपए दुकान की दिनभर की बिक्री के थे।


अंधेरे के कारण नहीं हो सकी पहचान
सीओ शर्मा ने बताया कि डूडी पेट्रोल पंप के पास से बंगलानगर जाने वाली एक गली में वारदात की गई। गली सुनसान है और अंधेरा भी है। वारदात का पता चलने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर शैलेन्द्र सिंह इंदोलिया, नयाशहर सीआई गोविंदसिंह चारण व कोतवाली एसएचओ नवनीतसिंह मौके पर पहुंचे।

नाकाबंदी कराई, संदिग्धों से पूछताछ
पुलिस ने वारदात का पता चलने पर जिलेभर में नाकाबंदी कराई। वारदात को लेकर क्षेत्र के संदिग्ध लोगों को थाने लाकर पूछताछ भी की लेकिन लूटेरों का कोई पता नहीं चला। वारदात का खुलासा करने के लिए चार टीमें भी गठित की गई है।

शहर में कब बहाल होगी कानून व्यवस्था
शहर में अब कानून व्यवस्था पटरी से उतर रही है। अब आमजन का जीना मुहाल हो गया। सरेराह एक व्यक्ति से शराब के लिए रुपए मांगने और नहीं देने पर चाकू मारने, दुकान से घर जा रहे व्यापारी से लूट, व्यापारियों की कार पर गोली बारी जैसी घटनाएं आम हो गई है। इन परिस्थितियों के बावजूद पुलिस प्रशासन महज खोखले दावे कर रहा है। पुलिस प्रशासन इन परिस्थितियों में भी कानून व्यवस्था बहाल होने के दावे कर रहा है।

ग्रामीण बैंक व डाकघर लूट का नहीं हुआ खुलासा
नयाशहर थाना क्षेत्र में रेलवे वर्कशॉप के पास स्थित डाकघर में हुई करीब साढ़े तीन लाख की लूट और हाल ही में चार जनवरी को मुक्ताप्रसाद कॉलोनी स्थित राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक में हुई १० लाख ७२ हजार की लूट का पुलिस अब तक खुलासा करना तो दूर कोई सुराग भी नहीं लगा पाई है। पुलिस प्रशासन का रटारटाया जवाब है कि आरोपी शीघ्र पकड़ लेंगे लेकिन अब तक आरोपियों की पहचान तक नहीं की गई है।

Jaiprakash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned