अभियान की पोल खोल रहा कचरा, हकीकत से दूर निगम की व्यवस्था

dinesh swami

Publish: Sep, 17 2017 02:11:19 (IST)

Bikaner, Rajasthan, India
अभियान की पोल खोल रहा कचरा, हकीकत से दूर निगम की व्यवस्था

शासन-प्रशासन 'स्वच्छता ही सेवा अभियान' का शुरू कर आमजन को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने का प्रयास कर रहे हैं

बीकानेर. शासन-प्रशासन 'स्वच्छता ही सेवा अभियान' का शुरू कर आमजन को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन शहर की सफाई के दायित्व वाला विभाग इस मामले में कोसों दूर है। नगर निगम क्षेत्र में जगह-जगह पड़े कचरे के ढेर, कचरे पर मंडरा रहे आवारा पशु तथा सफाई के अभाव में बदबू दे रहे सार्वजनिक मूत्रालय अभियान की पोल खोल रहे हैं।

 

अभियान के पहले दो दिनों में नगर निगम अपने कार्यालय से महज एक किमी दूर जूनागढ़ पुराना बस स्टैण्ड से न तो कचरे का ढेर हटा पाया है और ना ही रतन बिहारी पार्क के पास सार्वजनिक मूत्रालय की सड़ांध दूर कर पाया। फड़बाजार-कुचीलपुरा चौराहा, पुलिस लाइन की दीवार के पास सहित शहर में कई जगह पड़े कचरे के ढेर अभियान की धरातल से दूरी को बयां कर रहे हैं।

 

रथ की नहीं, सफाई की जरूरत
नगर निगम स्वच्छता पखवाड़े के तहत स्वच्छता रथ के माध्यम से आमजन को जागरूक करने का प्रयास कर रहा है। जागरूकता कार्य ठीक है, लेकिन शहर में वर्तमान में स्वच्छता रथ की नहीं, धरातल पर सघन सफाई की अधिक जरूरत है।

 

शहरवासी बुला ओझा के अनुसार निगम में क्षेत्रफल के अनुसार पर्याप्त सफाई कर्मचारियों, संसाधनों तथा उचित मॉनिटरिंग का अभाव है। कचरे के ढेर, गंदगी, बदबू, आवारा पशुओं के कारण आमजन परेशान है। इन समस्याओं के निराकरण के लिए सुनियोजित कार्य योजना बनाने तथा उसको धरातल पर उतारने की जरूरत है।

 

पास खड़ा रहना भी दूभर

शहर में जगह-जगह बने सार्वजनिक मूत्रालय देखभाल के अभाव में बदहाल हैं। नगर निगम की उदासीनता के चलते ऐसा लग रहा है कि इनकी सफाई को अर्सा बीत गया हो। सामान खरीदने केईएम रोड पहुंचे कैलाश चन्द्र के अनुसार रतन बिहारी पार्क के पास सार्वजनिक पुरुष शौचालय से दूर से बदबू आती है। इसका उपयोग करना तो दूर, इसके पास खड़ा होना दूभर है। निगम प्रशासन को केवल पखवाड़े में नहीं, बल्कि सतत रूप से शहर की साफ-सफाई को लेकर कार्य करना चाहिए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned