अजेय वॉरियर-2017: धोरों पर बने वास्तविक युद्ध जैसे हालात

dinesh swami

Publish: Dec, 07 2017 12:42:39 (IST)

Bikaner, Rajasthan, India
अजेय वॉरियर-2017: धोरों पर बने वास्तविक युद्ध जैसे हालात

फायरिंग रेंज में भारत व ब्रिटिश सेना के बीच 'संयुक्त युद्धाभ्यास 'अजेय वॉरियर-2017' के तहत रेत के समन्दर में वास्तविक युद्ध जैसे हालात पैदा कर दिए।

महाजन. एक गांव पर आंतकियों ने हमला कर नागरिकों को बंधक बना लिया है। हमले से निपटने के लिए व नागरिकों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए सेना को जिम्मेदारी सौंपी जाती है। सैन्य उच्चाधिकारियों से आदेश मिलते ही सेना ने शीघ्र कार्यवाही शुरू कर दी। और चन्द मिनटों में ही आतंकियों का सफाया कर नागरिकों को सुरक्षित निकाल लिया जाता है।

 

भारतीय सेना की दक्षिणी-पश्चिमी कमान के अंतर्गत विश्व स्तरीय ट्रेनिंग नोड के रूप में विकसित महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में भारत व ब्रिटिश सेना के बीच चल रहे संयुक्त युद्धाभ्यास 'अजेय वॉरियर-2017' के तहत बुधवार को रेत के समन्दर में वास्तविक युद्ध जैसे हालात पैदा कर दिए। सैन्य सूत्रों ने बताया कि रेंज एरिया में यूूके व भारतीय सैनिकों के मध्य अभ्यास हुआ।

 

दोनों ओर से निगरानी एवं ट्रेनिंग के लिए उन्नत उपकरण, आतंकवादियों से आमने-सामने की लड़ाई के लिए विशेष हथियार, विस्फोटक व आईईडी का पता लगाने वाले उपकरण तथा अत्याधुनिक संचार उपकरणों का प्रदर्शन भी किया गया। रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेट कर्नल मनीष ओझा ने बताया कि इस युद्धाभ्यास से दोनों देशों की सेनाओं को संयुक्त रूप से प्रशिक्षण व अति महत्वपूर्ण ऑपरेशन के अनुभव का लाभ होगा।

 

दोनों देशों की सेना आतंकवाद के विरूद्ध एकजुट होकर लड़ेगी। इससे यह युद्धाभ्यास आवश्यक और महत्वपूर्ण बन गया है। युद्धाभ्यास में भारतीय सेना की ओर से राजपूताना राइफल्स की 20 वीं बटालियन के 120 सैनिक व यूके की ओर से प्रथम बटालियन रॉयल एंग्लिकन रेजिमंण्ट के जवान भाग ले रहे हैं। भारतीय बटालियन को जहां काउंटर टेरिरिज्म के क्षेत्र में ऑपरेशन पवन एवं जम्मू-कश्मीर में सैनिक गतिविधि का व्यापक अनुभव प्राप्त है। वहीं ब्रिटिश रेजिमेंट को अफगानिस्तान व इराक युद्ध का अनुभव प्राप्त है।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना में जल्द कार्य करने के निर्देश
महाजन. जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजीत सिंह राजावत व लूणकरणसर विकास अधिकारी वैभव अरोड़ा ने ग्राम पंचायत पीपेरा का अवलोकन कर दिशा निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान राजावत ने मनरेगा योजना के तहत करवाए निर्माण कार्यों को परखा।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बने मकानों पर डिस्प्ले बोर्ड का भी निरीक्षण किया। विकास अधिकारी अरोड़ा ने आधार सीडिंग व एबीपीएस के बारे में जानकारी लेते हुए शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल करने के निर्देश दिए। सीओ ने ग्राम पंचायत में निर्माण कार्य, रिकॉर्ड संधारण व अन्य व्यवस्था पर संतोष जताया।

 

साथ ही आंगनबाड़ी केंद्र व उप स्वास्थ्य केंद्र में भी व्यवथा को देखा। उन्होंने दर्ज शिकायतों का निस्तारण करने के निर्देश दिए। इस दौरान सरपंच ओंकारराम मेघवाल, महेंद्र सारस्वत, ग्रामसेवक भंवर सिंह, कनिष्ठ लिपिक विनोद कुमार सियाग, प्रेरक रणजीत सिंह गोदारा आदि उपस्थित थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned