विदेशी पावणों को लुभा रहे बीकाणा के धोरे और किले, देखें वीडियो

विदेशी सैलानी यहां भारतीय संस्कृति से रूबरू होने व धोरों तथा किले आदि देखने के लिए आते हैं।

By: अनुश्री जोशी

Published: 04 Jan 2018, 09:26 AM IST

Bikaner, Rajasthan, India

पर्यटन सीजन शुरू होते ही मरुनगरी में देसी व विदेशी सैलनियों की संख्या बढ़ गई है। विदेशी पर्यटकों को धोरों की महक व किले की कलाकृतियां खूब लुभा रही हैं। हाल की नया साल शुरू हुआ है और अब अंतरराष्ट्रीय ऊंट महोत्सव को लेकर भी काफी पर्यटक यहां आए हुए हैं। पिछले साल बीकानेर में 59644 विदेशी पर्यटक आए थे, वहीं इस बार अब तक इनकी संख्या 65 से 70 हजार के आसपास तक पहुंच गई है।

 

दिसंबर-जनवरी में ज्यादा
पर्यटन विभाग के अनुसार पर्यटन सीजन नवंबर से मार्च तक रहता है, जबकि दिसंबर व जनवरी में विदेशी पर्यटक यहां ज्यादा आते हैं। विदेशी सैलानी यहां भारतीय संस्कृति से रूबरू होने व धोरों तथा किले आदि देखने के लिए आते हैं। इन दिनों फ्रांस व जर्मनी से ज्यादा पर्यटक आए हुए हैं। शहर में बुधवार को भी विदेशी पर्यटकों ने पर्यटन स्थलों का भ्रमण किया। उन्होंने जूनागढ़ किले के झरोखों में खड़े होकर फोटो भी खिंचवाए। उन्होंने जूनागढ़ के इतिहास व गढ़ की कलाकृतियां को खूब सराहा और फोटो ली।

 

शाही ट्रेन पहुंची
महाराजा एक्सप्रेस से काफी संख्या में विदेशी पर्यटक लालगढ़ स्टेशन पर पहुंचे। वहां विदेशी पर्यटकों का राजस्थानी कलाकारों ने स्वागत किया और ऊंट नृत्य भी किया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned