शराब के लिए मशक्कत, कतारों में खड़े शौकिन

लॉकडाउन में छूट के तहत सोमवार को पहली बार शराब ठेके खुले। शराब ठेकों पर एकदम से भीड़ उमड़ पड़ी।

By: Jaiprakash

Published: 05 May 2020, 11:19 AM IST

बीकानेर । लॉकडाउन में छूट के तहत सोमवार को पहली बार शराब ठेके खुले। शराब ठेकों पर एकदम से भीड़ उमड़ पड़ी। सुबह दस बजे ठेके खोलने का समय तय किया गया लेकिन शराब के शौकिन सुबह नौ बजे से ही शराब लेने पहुंचने लगे। दोपहर १२ बजते-बजते हालात बेकाबू होने लगे। शहर की शराब की एक भी ऐसी दुकान नहीं थी, जहां शराब लेने के लिए कतार न लगी हो। शराब के शौकिनों को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को सख्ती बरतनी पड़ी। पुलिस ने सोमवार को सैकड़ों वाहनों को जब्त किया तो कइयों के चालान काटे। वहीं दोपहर में सरकार की ओर से शराब ठेकों को पुन: बंद करने के आदेश की अफवाह आई, जिससे हालात और बेकाबू रहे।

तय दर से ज्यादा में बिकी शराब
सोमवार सुबह से शराब की दुकानें खुलनी थी लेकिन रविवार शाम को बीकानेर में एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ गया। ऐसे में एकबारगी अफवाह यह फैली की शराब ठेके वापस बंद होंगे। इस पर शराब शौकिन शराब लेने के लिए सड़कों पर उतर आए। शराब ठेकेदारों ने भी इसका जमकर फायदा उठाया। शराब की दुकानों पर निर्धारित दर से २०-३० रुपए ज्यादा लेकर शराब बेची गई। शराब ठेकों पर सोशिलय डिस्टेंसिंग की पालना की धज्जियां उड़ती दिखी।

शराब ठेके बंद करने का आदेश नहीं
शराब ठेके बंद करने का कोई आदेश नहीं है। इतना जरूर है कि शराब ठेकों पर सोशल डिस्टेंसिंग की पालना जरूर हो, जहां पालना नहीं हो रही है उनके खिलाफ कार्रवाई करने तथा सोशल डिस्टेंसिंग की पालना कराने के निर्देश दिए हैं। ठेकों पर तय दर से अधिक दाम न वसूले जाए और सोशल डिस्टेंसिंग की पालना कराने के लिए आबकारी अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। वे हर शराब दुकान का निरीक्षण कर रहे हैं।
डॉ. भवानीसिंह राठौड़, जिला आबकारी अधिकारी।

Jaiprakash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned