तीन परियोजनाओं में से दो पर काम बंद, कंपनियों को हटाने की कार्रवाई शुरू

तीन परियोजनाओं में से दो पर काम बंद, कंपनियों को हटाने की कार्रवाई शुरू

dinesh swami | Publish: May, 18 2018 11:33:31 AM (IST) Bikaner, Rajasthan, India

दो परियोजना नागौर-बीकानेर और बीकानेर-सूरतगढ़ पर ठेकेदार के पास धन की कमी से काम ठप पड़ा है।

बीकानेर . राष्ट्रीय उच्च सड़क मार्ग की तीन परियोजनाओं में से दो परियोजना नागौर-बीकानेर और बीकानेर-सूरतगढ़ पर ठेकेदार के पास धन की कमी से काम ठप पड़ा है। इसमें बीकानेर-सूरतगढ़ का अधिकांश काम पूरा हो गया। वहीं नागौर-बीकानेर सड़क मार्ग का कमोबेश आधा काम हुआ है। इन सड़कों पर बिना टोल टैक्स के वाहन चल रहे हैं। सीकर-बीकानेर का काम अंतिम चरण में है।

 


बीकानेर-नागौर और बीकानेर -सूरतगढ़ के शेष काम ठेकेदार कंपनी के पास धन की कमी के चलते बंद पड़े हैं। इस सड़क परियोजना में 108 किलोमीटर नागौर से बीकानेर सड़क बननी थी। इसमें से 66 किलोमीटर सड़क का निर्माण हो गया है। इस मार्ग पर 4 आरओबी बनाए जाने शेष है। नोखा, श्रीबालाजी तथा नागौर में बाइपास बनाए जाने है। 42 किलोमीटर सड़क निर्माण का कार्य शेष रहा है।

 


यह प्रोजेक्ट 378 करोड़ रुपए की लागत है। तय शर्तों के अनुसार जुलाई 2015 में काम पूरा होना था। इस प्रोजेक्ट का काम दिसम्बर 2015 से बंद है। अब ठेकेदार कंपनी के (टर्मिनेशन) हटाने की कार्रवाई की जा रही है।

 


आरओबी का काम शेष
इसी तरह सूरतगढ़-बीकानेर के बीच 173 किलोमीटर हाइवे निर्माण की परियोजना में से 164 किलोमीटर तक काम हो गया। इस प्रोजेक्ट में 8 किलोमीटर सड़क तथा बामनवाली में आरओबी का काम बकाया है। यह काम भी डेढ़ साल से बंद है। निर्मित सड़क मार्ग का बिना टोल टैक्स से उपयोग किया जा रहा है। इस ठेकेदार कंपनी के (टर्मिनेशन) हटाने की कार्रवाई की जा रही है।

 


कार्रवाई प्रक्रियाधीन
राष्ट्रीय राज मार्ग के दो प्रोजेक्ट के काम बंद पड़े हैं। सार्वजनिक निर्माण विभाग (एनएच) विंग की ओर से सड़कों का संधारण किया जा रहा है। इन सड़कों पर यातायात में कोई बाधा नहीं है। ठेकेदार कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई प्रक्रियाधीन है।
टी.सी. गुप्ता, अधीक्षण अभियंता (एनएच) पीडब्ल्यूडी बीकानेर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned