बच्चों को विटामिन ए पिलाने का अभियान शुरू

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को पिलाएंगे विटामिन ए का घोल

 

By: Vimal

Published: 02 May 2021, 08:16 PM IST

बीकानेर. छोटे बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन ए पिलाने का अभियान शुरू हुआ। स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह अभियान 30 मई तक चलाया जाएगा। अभियान के तहत 9 माह से 5 वर्ष आयु तक के बच्चों को विटामिन ए पिलाया जाएगा। महिला एवं बाल विकास विभाग के साथ समन्वित प्रयासों से चलाए जाने वाले इस अभियान के तहत बच्चों को आंगनबाड़ी केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं जिला अस्पताल पर विटामिन ए की खुराक पिलाई जाएगी। यह खुराक हर 6 माह के अन्तराल से पिलाई जाती है।


सीएमएचओ डॉ. सुकुमार कश्यप के अनुसार विटामिन ए अभियान के इस चरण में 2 लाख 97 हजार 239 बच्चों को खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। इसकी माइक्रो प्लानिंग पल्स पोलियो अभियान की तरह की गई है।

 

 

विटामिन ए है लाभदायक
सीएमएचओ के अनुसार विटामिन ए आंखों की बीमारियों जैसे रतौंधी, अंधता से बचाव के साथ-साथ बच्चों में शारीरिक रोग प्रतिरोधक क्षमता वृद्धि के लिए भी आवश्यक है। विटामिन ए देने से बच्चों में दस्त एवं निमोनिया आदि बीमारियों के घातक प्रभाव में कमी लाई जा सकती है। जिसमें पांच वर्ष से कम बच्चों की मृत्यु दर में भी कमी आती है।

 

क्वारेंटाइन घरों में बाद में पिलाएंगे विटामिन ए

कोरोना संक्रमण के चलते जिन घरों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में रखा गया है या जिन घरों में कोई होम क्वॉरेंटाइन कोविड पॉजिटिव व्यक्ति है उन घरों के बच्चों को बाद में विटामिन ए पिलाया जाएगा जब घर क्वारेंटाइन सूची से बाहर हो जाएगा। बच्चों को विटामिन ए पिलाते समय मास्क, सैनिटाइजर, 2 गज की दूरी, स्वच्छता व अन्य सख्त कोरोना प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित की जाएगी।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned