scriptWater and fodder for animals | सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में गोवंश व वन्यजीवों की बुझा रहे भूख व प्यास | Patrika News

सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में गोवंश व वन्यजीवों की बुझा रहे भूख व प्यास

वन्य जीवों व पशुओं के लिए पानी एवं चारे की व्यवस्था से लेकर दुर्घटनाओं में महती भूमिका निभाते

बीकानेर

Published: June 24, 2022 01:19:05 am

महावीर सारस्वत
ठुकरियासर. श्रीडूंगरगढ़ उपखंड क्षेत्र में संचालित आपणो गांव सेवा समिति सामाजिक संस्था उपखंड क्षेत्र के लिए जरूरत का पर्याय बन चुकी है। वन्य जीवों व जरूरतमंद पशुओं के लिए पानी एवं चारे की व्यवस्था से लेकर सड़क दुर्घटना, आग जैसे हादसों में रात दिन महती भूमिका निभाने के लिए पहले पायदान खड़े युवा सेवादारों ने जनमानस में अपना स्थान बनाया है।
सदूर वन क्षेत्र में जहां वन्य जीवों के लिए प्यास बुझाने को पानी का दीदार तक नही होता है। ऐसे निर्जन स्थानों पर रोजाना पानी और चुग्गे की व्यवस्था करना कठिन कार्य है, लेकिन संस्था के सेवादारों द्वारा तेज गर्मी एवं उबड़-खाबड़ रेत के टिब्बों के बीच सफर कर इस काम को पिछले पांच सालों से नियमित रूप से अंजाम दिया जा रहा है।

सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में गोवंश व वन्यजीवों की बुझा रहे भूख व प्यास
सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में गोवंश व वन्यजीवों की बुझा रहे भूख व प्यास


जुड़ते गए लोग और बढ़ता गया कारवां
समिति के अध्यक्ष मनोज डागा व उनके साथी मित्रों ने सामाजिक कार्य में कुछ विशेष करने की बात सोची और पांच साल पहले शहर, गांव एवं निर्जन स्थानों पर गर्मी के दौरान पक्षियों की पानी की व्यवस्था करने के लिए पाळसियों व सीमेन्ट के बिलिया रखने के अलावा जिन पशुखेळियों में पानी नहीं पहुंचता है। उन्हें पानी से भरने का दौर शुरू किया। युवाओं ने इस कठिन काम को चैलेंज के रूप में स्वीकारा और देखते ही देखते इस कार्य में लोग जुडऩे लगे और आर्थिक सहयोग व जरूरत के साधन उपलब्ध कराने लगे।


वन्य जीवों व पशुओं के लिए पानी की व्यवस्था
संस्था की ओर से श्रीडूंगरगढ़ व लूणकरणसर तहसील के रोही क्षेत्र में पानी संकट के दौरान पशु खेळियों में पानी के टैंकर डलवाए जा रहे हैं। वहीं घायल गोवंश या वन्य जीव की सूचना मिलते ही संस्था की मेडिकल मोबाइल टीम मौके पर पहुंचकर इलाज करवाती हैं। वन्यजीवों के घायल होने पर श्रीडूंगरगढ़ वन विभाग के रेस्क्यू सेंटर लाकर उपचार करवाया जाता है।


निस्वार्थ भाव से लगे समिति के सेवादार
कोरोना काल में समिति ने दिल्ली, उत्तरप्रदेश के कानपुर आदि से ऑक्सीजन सिलेंडर परिवहन कर निशुल्क ऑक्सीजन की व्यवस्था की और लोगों को राहत देने के साथ संस्था के सक्रिय सेवादारों ने शवों के दाह संस्कार में भी बेझिझक सहयोग किया। वहीं राजस्थान पत्रिका द्वारा चलाए गए अमृतं जलमं व हरियाळो राजस्थान अभियान के दौरान संस्था ने कई गांवों के जोहड़ की सफाई व पौधरोपण में सहभागिता निभाई है।


संस्था द्वारा संचालित समाज सेवा के कार्य
संस्था की गतिविधियों में भामाशाहों व करीब 70 हजार सदस्यों के समूह द्वारा समय-समय पर आर्थिक भागीदारी निभाई जा रही है। इनके सहयोग से संस्था द्वारा करीब 20 हजार पाळसियों का वितरण, गांवों व रोही क्षेत्र में पानी के लिए करीब 30 पक्की बड़ी खेळ व तीन सौ सीमेंट बिलिया के अलावा 80 लोहे से बने चबूतरों का निर्माण करवाया गया है। रोजाना निराश्रित गायों को गुड़, पशु आहार, चारा के अलावा वन क्षेत्र में पक्षियों के लिए चुग्गे व पानी की व्यवस्था भी की जा रही है। सरकारी अस्पताल में दो शव फ्रीजर भी लगाए गए हैं। कोरोना काला में जरूरतमंद लोगों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर व सिलेंडर की निशुल्क व्यवस्था की। संस्था की एक क्विक एम्बुलेंस भी है, जिससे सड़क एवं अन्य घटनाओं के दौरान सेवादार मददगार बन रहे हैं। संस्था के पास 12 हजार लीटर की क्षमता वाला दमकल गांवों में आग लगने के दौरान बुझाने का कार्य कर रही है। संस्था को सुख सागर सेवा ट्रस्ट द्वारा दिया पिकअप टैंकर पानी की व्यवस्था में लगा रहता है। संस्था ने धोलिया गांव में राजकीय विद्यालय में पानी के लिए तरसते बच्चों के लिए एक नलकूप व दो हजार लीटर की क्षमता वाले जल हौज का निर्माण करवाकर सौगात दी है। गांवों में निशुल्क परामर्श चिकित्सा जांच शिविर व दवा का वितरण भी किया जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: बीजेपी ऐसे भिखारियों का हाथ पकड़कर खुद को बता रही महाशक्ति.. ‘सामना’ के जरिए फिर शिवसेना ने कसा तंजMaharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारीMumbai News Live Updates: शिंदे के गढ़ ठाणे में निषेधाज्ञा लागू, 30 जून तक खुलेआम लाठी-डंडे, हथियार लेकर चलना व पोस्टर जलाना प्रतिबंधितकेरल में राहुल गांधी के दफ्तर पर हुए हमले के बाद बड़ी कार्रवाई, DSP निलंबित, ADGP करेंगे मामले की जांच25 जून 1983, 39 साल पहले भारत ने रचा था इतिहास, लॉर्ड्स में वर्ल्ड कप जीतकर लहराया तिरंगाकौन हैं तपन कुमार डेका, जिन्हें मिली इंटेलिजेंस ब्यूरो की कमानकर्नाटक के बेलागवी जिले में कनस्तर में मिले 7 भ्रूण, स्वास्थ्य विभाग ने दिए जांच के आदेशNDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार पर रामगोपाल वर्मा ने किया विवादित ट्वीट, BJP ने दर्ज कराई शिकायत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.