scriptwater problem in bikaner | जल संकट: अब दस दिन तक 72 घंटे में एक बार पानी, इस तारीख से नियमित होगी जलापूर्ति | Patrika News

जल संकट: अब दस दिन तक 72 घंटे में एक बार पानी, इस तारीख से नियमित होगी जलापूर्ति

जल संकट: अब दस दिन तक 72 घंटे में एक बार पानी, इस तारीख से नियमित होगी जलापूर्ति

बीकानेर

Published: May 20, 2022 10:11:11 am

इंदिरा गांधी परियोजना की नहरबंदी चार दिन बढ़ने के साथ ही शहर और ग्रामीण क्षेत्र में जलसंकट और ज्यादा गहरा गया है। बीकानेर शहर को जलापूर्ति करने वाले शोभासर और बीछवाल जलाश्य में महज तीन-चार जलापूर्ति करने योग्य पानी ही बचा है। ऐसे में शुक्रवार से जलापूर्ति में और ज्यादा कटौती करने का निर्णय किया गया है। अब जलदाय विभाग की ओर से अगले दस दिन घरों को 72 घंटे में एक बार यानि दो दिन के अंतराल से जलापूर्ति दी जाएगी।
आइजीएनपी में नहरबंदी 21 मई तक प्रस्तावित थी। पानी छोड़ने से पहले सरहिन्द फीडर के डायवर्सन की मरम्मत के चलते अब नहरबंदी को चार दिन बढ़ा दिया गया है। ऐसे में हरिके बैराज से छोड़ा पानी 29 मई तक बीकानेर पहुंचने की संभावना जताई गई है। दूसरी तरफ में बीकानेर शहर को जल वितरण करने वाले शोभासर एवं बीछवाल जलाशय में पानी बहुत कम बचा है। नहरबंदी से पहले भंडारित पानी को गुरुवार तक एक दिन के अंतराल से दिया जा रहा था। दोनों जलाशयों में जल भण्डारण 25 मई तक का ही है। ताजा हालात में इस पानी से 29-30 मई तक काम चलाना पड़ेगा।

जल संकट: अब दस दिन तक 72 घंटे में एक बार पानी, इस तारीख से नियमित होगी जलापूर्ति
जल संकट: अब दस दिन तक 72 घंटे में एक बार पानी, इस तारीख से नियमित होगी जलापूर्ति

30 के बाद होगी नियमित आपूर्ति

वर्तमान परिस्थितियों में शुक्रवार से दो दिवस छोड़कर पानी की आपूर्ति होगी। नहर से बीकानेर पानी पहुंचने पर 30 मई से जलापूर्ति नियमित कर दी जाएगी। जिला प्रशासन ने पानी संकट से निपटने के लिए शहर में टैंकरों से जल वितरण शुरू कर रखा है। विभाग अब टैंकरों की संख्या और फेरों को बढ़ाएगा। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता बलबीर सिंह ने बीकानेर शहरी एवं ग्रामीण उपभोक्ताओं से जल का मितव्ययता से उपयोग करने की अपील की है।

फर्श और वाहन नहीं धोएं

जिला प्रशासन ने आमजन से घरों में फर्श, दीवार, वाहन आदि नहीं धोने की अपील की है। साथ ही ऐसे घरेलू कार्य, जिनमें पानी का अधिक उपयोग होता है, उन्हें दस दिवस की अवधि के लिए स्थगित करने के लिए कहा है। साथ ही औद्योगिक और व्यवसायिक कार्यों में पानी का उपयोग नहीं करने के लिए निर्देश दिए है। जिन क्षेत्रों में पेयजल संकट की िस्थति पैदा होती है जलदाय विभाग के नियंत्रण कक्ष 0151-2226454 पर सूचना कर पानी का टैंकर भेजने की मांग कर सकते है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

तमिलनाडु में आएगा 1.25 लाख करोड़ रुपए का निवेश, सरकार ने 60 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किएआंध्र प्रदेश में पीएम की सुरक्षा में चूक, हेलिकॉप्टर के उड़ान भरते ही छोड़े काले गुब्बारेउज्जैन जा सकती है मेट्रो, 14 सौ करोड़ में बनेगा ट्रेक और स्टेशनउदयपुर कांड: धर्मगुरुओं ने कहा- कट्टरता ने मानव को दानव बना दिया, ऐसे लोगों का करें बहिष्कारIND vs ENG, 5th Test Match Day 4 Live Scorecard: चौथे दिन चायकाल के बाद इंग्लैंड दूसरी पारी में 1 विकेट के नुकसान पर 107 रनों परmp nikay chunav 2022: मध्यप्रदेश में 'आप' की सियासी एंट्री का रूटमैप तैयार, केजरीवाल ने फूंकी जानअगले 48 घंटे में छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग का अलर्टहोटल की महिला कार्मिक के साथ सामूहिक बलात्कार मामले में पुलिस के हत्थे चढ़े ये आरोपी...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.