शहर में बारिश, गांवों में अंधड़ से पेड़ उखड़े

Atul Acharya | Publish: May, 24 2019 11:53:07 AM (IST) | Updated: May, 24 2019 11:53:08 AM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

बीकानेर. अंचल में गुरुवार को दोपहर में मौसम ने अचानक पलटा खाया और बारिश हुई।

बीकानेर. अंचल में गुरुवार को दोपहर में मौसम ने अचानक पलटा खाया और बारिश हुई। इससे शहरवासियों को गर्मी से राहत मिली। मौसम विभाग के अनुसार आगामी दो दिनों में आंधी व बारिश हो सकती है। गुरुवार दोपहर १.३० से २ बजकर १० मिनट तक तेज हवाओं के साथ ४.४ एमएम बारिश हुई। बारिश से शहर की सड़कों पर पानी जमा हो गया। बारिश के बाद उमस का माहौल हो गया। अधिकतम तापमान ४१.९ डिग्री व न्यूनतम तापमान ३०.२ डिग्री सेल्सियस रहा।

 

बिजली के पोल भी टूटे
लूणकरनसर तहसील क्षेत्र में गुरुवार दोपहर आए तेज अंधड़ ने दर्जनभर गांवों में भारी तबाही मचाई है। अंधड़ से बड़ी तादाद में बिजली के पोल टूट गए तथा पेड़ उखड़ गए। अंधड़ ने कई मकानों को भी नुकसान पहुंचाया है। टूटे पेड़ रेलवे ट्रेक पर गिरने से एकबारगी रेल यातायात भी बाधित हो गया। गुरुवार दोपहर करीब ३.३० बजे आए तेज अंधड़ ने लूणकरनसर क्षेत्र के ग्राम गोपल्याण, चक २ एलकेडी, एक एलकेडी, तीन एलकेडी, हरियासर, धीरदान, अमरपुरा, शेखसर समेत कंवरसेन लिफ्ट नहर क्षेत्र के दर्जनों चक-आबादियों में तबाही मचाई है। अंधड़ से गोपल्याण व नाथवाणा के एलकेडी के चकों में बड़ी संख्या में बिजली के पोल टूटने से विद्युत आपूर्ति व्यवस्था अस्त-व्यस्त हो गई तथा रास्तों में पोल व तार गिरने से आवागमन भी बाधित हो गया है। चक एक एलकेडी में अंधड़ से लक्ष्मणराम पचार की ढाणी में एक मकान की छत उड़ गई तथा जैसाराम गोदारा के खेत में निर्माणाधीन मकान का ऊपरी हिस्सा टूटकर गिर गया। कई किसानों के खेतों में मकानों को नुकसान पहुंचा है। खेतों में पेड़ उखडऩे के साथ खलिहानों में पड़ी फसल व चारा उडऩे से नुकसान हुआ। इसके अलावा खेतों की तारबंदी को भी नुकसान हुआ है। अंधड़ से नव अंकुरित फसलों को भी क्षति हुई है।

 

 

रेल यातायात बाधित
महाजन. नाथवाणा के पास गुरुवार दोपहर बाद आए अंधड़ से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। मलकीसर-नाथवाणा के बीच रेलवे ट्रैक पर कई पेड़ गिरने से रेल यातायात करीब एक-डेढ़ घंटे तक बाधित रहा। जानकारी के मुताबिक दोपहर बाद मलकीसर, नाथवाणा, शेखसर क्षेत्र में अंधड़ के साथ बारिश होने से रोही में बड़ी संख्या में पेड़ धराशाही हो गए। मलकीसर व नाथवाणा के बीच रेलवे ट्रेक पर पेड़ गिरने से रेल यातायात प्रभावित हुआ। इस दौरान अबोहर से लालगढ़ जाने वाली पैसेंजर रेलगाड़ी करीब सवा घंटे नाथवाणा स्टेशन पर खड़ी रही वहीं जयपुर-सूरतगढ़ पैसेंजर रेलगाड़ी भी करीब पौने घंटे तक नाथवाणा व लूणकरनसर के बीच खड़ी रही। इस दौरान रेल यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बाद में रेलयात्रियों व रेलवे कर्मचारियों ने ट्रैक पर गिरे पेड़ों को दूर हटाकर रेल यातायात सुचारू करवाया। शेखसर क्षेत्र में अंधड़ के साथ तेज बारिश आने से कई विद्युत पोल गिरने के समाचार मिले है। पोल गिरने से क्षेत्र की विद्युतापूर्ति भी प्रभावित हुई। बरसात से गर्मी कम होने से ग्रामीणों को राहत मिली है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned