विश्व ओजोन दिवस : चित्र बनाकर दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश

dinesh swami

Publish: Sep, 17 2017 11:32:57 (IST)

Bikaner, Rajasthan, India
विश्व ओजोन दिवस : चित्र बनाकर दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश

विश्व ओजोन परत संरक्षण दिवस पब्लिक पार्क स्थित उप वन संरक्षक कार्यालय में मनाया गया।

बीकानेर. विश्व ओजोन परत संरक्षण दिवस शनिवार को पब्लिक पार्क स्थित उप वन संरक्षक कार्यालय में मनाया गया। इस दौरान कई कार्यक्रम हुए। सुबह साढ़े सात बजे वन विभाग के स्टाफ व मोबिन शिक्षण संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में प्रभात रैली निकाली गई।

 

यह पब्लिक पार्क से सादुलसिंह सर्किल होते हुए निकली। विद्यार्थियों ने पर्यावरण, ओजोन परत को बचाने का संदेश दिया। विद्यालय परिसर में चित्र कला प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें बच्चों ने चित्रों के
माध्यम से पर्यावरण बचाने का संदेश दिया। इस मौके पर भंवरङ्क्षसह, क्षेत्रिय वन अधिकारी आसूसिंह आदि मौजूद रहे।

 

'पर्यावरण संरक्षण मनुष्य के लिए जरूरी'
छतरगढ़. विश्व ओजोन दिवस के उपलक्ष्य में शनिवार को सेंट सोफिया सैकण्डरी स्कूल में वन विभाग की ओर से पौधरोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर क्षेत्रीय वन अधिकारी ताजेन्द्र ग्रोवर ने बच्चों को विश्व ओजोन परत दिवस के बारे में विस्तार से जानकारी दी एवं पर्यावरण के महत्व की जानकारी दी। वनपाल बन्नेसिंह, सहायक वन पाल बजरंगसिंह, हीरालाल आदि ने पौधरोपण किया।

 

ओजोन परत के संरक्षण के लिए जागरूकता जरूरी
लूणकरनसर. यहां आजाद कॉलोनी में शनिवार को वन विभाग एवं टाईगर फोर्स के संयुक्त तत्वावधान में ओजोन दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। वन विभाग के क्षेत्रीय वन अधिकारी मोहरसिंह मीणा ने कहा कि ओजोन परत हमें सूर्य से निकलने वाली हानिकारक पराबैंगनी किरणों से रक्षा का काम करती है।

 

उन्होंने मनुष्य द्वारा जन जागरूकता के अभाव में ओजोन परत को नुकसान पहुंच रहा है। इसके लिए लोगों में जागरूकता जरूरी है। टाईगर फोर्स के अध्यक्ष महिपाल सिंह राठौड़ ने कहा कि ओजोन परत के संरक्षण के लिए सघन पौधरोपण जरूरी है। उन्होंने कहा कि पृथ्वी पर हरियाली का आवरण बढ़ाने से वाहनों, कल-कारखानों से निकलने वाली हानिकारक गैसों के प्रदूषण को कम किया जा सकता है। इस मौके पर वन रक्षक रमणलाल पूनिया, वन रक्षक सुशीला कुमारी, वीरेन्द्र आदि ने विचार रखे।

 

चित्रकला प्रतियोगिता
नोखा. बीकासर के जय वीर तेजाजी विद्या आश्रम विद्यालय में शनिवार को वन विभाग रेंज की ओर से पर्यावरण संबंधी चित्रकला प्रतियोगिता रखी गई। क्षेत्रीय वन अधिकारी ने बच्चों को पर्यावरण व ओजोन परत को बचाने का संकल्प दिलवाते हुए इसके संरक्षण के बारे में बताया। प्रधान हरिराम ने ओजोन परत के बारे में जानकारी दी।

 

ओजोन दिवस पर संगोष्ठी
खाजूवाला. अंतर्राष्ट्रीय ओजोन परत संरक्षण दिवस के उपलक्ष्य में चक 31 केवाईडी में स्थानीय लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से वन विभाग द्वारा एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता क्षेत्रीय वन अधिकारी भागीरथ डूडी ने की। इस मौके पर डूडी ने ग्रामीणों को ओजोन परत के बारे में बताया। संगोष्ठी के बाद ग्रामीणों की मौजूदगी में नहर के किनारे 104 आरडी पर पौधरोपण किया गया। इस मौके पर वनरक्षक प्रवीण बिश्नोई, सीताराम सिद्धू आदि मौजूद थे।

 

एसकेएस चन्दी मैमोरियल पीजी महाविद्यालय में ओजोन परत संरक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें भूगोल व्याख्याता राजाराम ने विद्यार्थियों को बताया कि ओजोन परत हमारी सुरक्षा कवच की तरह कार्य करती है एवं हानिकारक परावैगनी किरणों को पृथ्वी पर आने से रोकती है। इसके प्रभाव से त्वचा कैंसर, पेड़-पौधे व जीवन जन्तुओं पर पड़ता है। भूगोल व्याख्याता ने बताया कि ओजोन दिवस के साथ-साथ हरित ग्रह प्रभाव ग्लोबल वार्मिंग से जलवायु प्रभावित होती है।

 

गो ग्रीन प्रतियोगिता का आयोजन
साधासर. कस्बे के श्री बालाजी महाविद्यालय के सभागार में शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय ओजोन दिवस के उपलक्ष्य पर गो ग्रीन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसका उद्देश्य छात्रों में ओजोन परत की सुरक्षा के प्रति जागरुकता लाना था। कार्यक्रम की शुरुआत ओजोन एक सुरक्षा कवच नामक लघु वार्ता भूगोल व्याख्याता विजेंद्र गोस्वामी द्वारा प्रस्तुत की गई।

 

वनों का संरक्षण जरूरी
दियातरा. विश्व में आज वनों का संरक्षण जरूरी है। वनों से ही ओजोन परत से आने वाले विकिरण से पृथ्वी को बचाया जा सकता है। उक्त विचार गांव की वन पौधशाला में संगोष्ठी में बोलते हुए वनपाल वेदप्रकाश ने व्यक्त किए। कार्यक्रम में पूर्व सरपंच रामनारायण लखेसर, प्रभारी महावीरसिंह, पूर्व उपसरपंच लूणाराम लीलड़, हजारीराम मेघवाल, गंगाराम पडिहार, पूनमराम कङेला, मघाराम, मूलाराम व गिरधारीराम आदि ने विचार व्यक्त किए।

 

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned