सीयू में 2 नई विद्यापीठ एवं 15 नए विभाग आरंभ, दर्शन एवं धर्म भी शामिल

पंद्रह नये विभागों में दर्शन एवं धर्म विभाग, संस्कृत विभाग, जैव रसायन विभाग, सूक्ष्म जैविकी विभाग, जैविक सूचना विज्ञान विभाग, सूचना प्रौद्योगिकी विज्ञान विभाग, सांख्यिकी विभाग, जैव भौतिकी विभाग, इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग, भूविज्ञान विभाग, भू भौतिकी विभाग, भूगोल विभाग, गृह विज्ञान विभाग, मनोविज्ञान विभाग एवं समाजशास्त्र विभाग शामिल हैं।

बिलासपुर। गुरू घासीदास केन्द्रीय विश्वविद्यालय में वर्तमान पाठ्यक्रमों के अतिरिक्त अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप नवीन विद्यापीठों एवं उनके अंतर्गत विभिन्न नवीन विभागों की स्थापना की गई है। विश्वविद्यालय के इतिहास में पहली बार एक साथ 02 नई विद्यापीठ एवं 15 नये विभाग खोल गए हैं।
दो नई विद्यापीठ शिक्षा एवं अंतरविषयक शिक्षा और अनुसंधान है। वहीं पंद्रह नये विभागों में दर्शन एवं धर्म विभाग, संस्कृत विभाग, जैव रसायन विभाग, सूक्ष्म जैविकी विभाग, जैविक सूचना विज्ञान विभाग, सूचना प्रौद्योगिकी विज्ञान विभाग, सांख्यिकी विभाग, जैव भौतिकी विभाग, इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग, भूविज्ञान विभाग, भू भौतिकी विभाग, भूगोल विभाग, गृह विज्ञान विभाग, मनोविज्ञान विभाग एवं समाजशास्त्र विभाग शामिल हैं।
केन्द्रीय विश्वविद्यालय में अब 11 विद्यापीठें एवं 47 विभाग होंगे। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व विश्वविद्यालय में 09 विद्यापीठें एवं 32 विभाग थे। भारत के राजपत्र में प्रकाशित होने के बाद विश्वविद्यालय ने दो नए विद्यापीठ शिक्षा विद्यापीठ एवं अंतरविषयक शिक्षा और अनुसंधान विद्यापीठ के गठन की अधिसूचना जारी कर दी है। इन विद्यापीठों के अंतर्गत विश्वविद्यालय में कुल 47 विभाग होंगे।
इसमें होगा लाभ
विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य के इस एकमात्र केन्द्रीय विश्वविद्यालय में इन नवीन विद्यापीठों एवं विभागों की स्थापना से शोध अध्ययन, अनुसंधान एवं नवाचार के क्षेत्र में नई ऊर्जा के साथ कार्य होंगे जिससे गुरु घासीदास केन्द्रीय विश्वविद्यालय का नाम राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शैक्षणिक मानचित्र पर स्पष्ट परिलक्षित होगा।

मार्च2018 में बना था प्रस्ताव
मिली जानकारी के अनुसार केन्द्रीय विश्वविद्यालय के अकादमिक विभाग द्वारा जारी ज्ञापन के अनुसार दिनांक 12 मार्च, 2018 को आयोजित विद्या परिषद की स्थाई समिति बैठक में अधिष्ठाताओं की समिति की अनुशंसा के अनुसार विद्यापीठों में विभागों के बंटवारे का अनुमोदन किया गया। इस बैठक के कार्यवृत्त का अनुमोदन दिनांक 04 मई, 2018 को आयोजित कार्य परिषद की बैठक में किया गया। परिनियम 40 के अनुसार विभागों एवं विद्यापीठों का नाम, कुलपति के अनुमोदन के बाद अधिसूचित कर दिया गया और विश्वविद्यालय स्तर पर दिनांक 04 नवंबर, 2019 तथा दिनांक 07 नवंबर, 2019 के भारत सरकार के राजपत्र में प्रकाशित कर दिया गया है।

Show More
JYANT KUMAR SINGH
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned