फेलोशिप परीक्षा में शामिल हुए 25 चिकित्सक, प्रदेश के सभी मुख्य शहरों से हुए सम्मिलित

आइएमए: हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. अखिलेश वर्मा की देखरेख में हुई परीक्षा

By: Amil Shrivas

Published: 24 Jul 2018, 05:54 PM IST

बिलासपुर. आई एम ए कॉलेज ऑफ जनरल प्रैक्टिशनर के छत्तीसगढ़ शाखा ने फेलोशिप परीक्षा का आयोजन जिला अस्पताल में किया था। शहर के नामी ह्रदय रोग विशेषज्ञ डॉ. अखिलेश वर्मा राष्ट्रीय अधिष्ठाता की देखरेख में आयोजित इस परीक्षा में प्रदेश के सभी मुख्य शहरों के चिकित्सक परीक्षा में सम्मिलित हुए थे। दुर्ग भिलाई रायगढ़ बिलासपुर तथा प्रदेश के बाहर मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा से तथा उड़ीसा के राउरकेला के चिकित्सक इस में पंजीबद्ध हुए थे। प्रदेश में जनरल प्रैक्टिशनर के कौशल विकास तथा उन्नयन के लिए समर्पित चिकित्सक डॉ.अखिलेश वर्मा और डॉक्टर किरण देवरस ने इसकी स्थापना 2006 में छत्तीसगढ़ में की थी। देश में यह कोर्स लगभग 50 साल से चेन्नई स्थित मुख्यालय से संचालित किया जा रहा है । इसे आई एम ए की शैक्षणिक विचार धारा माना जाता है। गौरव की बात यह है की डॉक्टर अखिलेश वर्मा के नेतृत्व में इस साल 25 चिकित्सक पंजीबद्ध हुए जोकि छग इकाई के लिए सर्वोच्च है। सोमवार को आयोजित 3 घंटे की लिखित परीक्षा के बाद क्लीनिकल केस तथा क्लीनिकल डिस्कशन के लिए मेडिसिन से डॉक्टर बी आर होत चंदानी, सर्जरी से डॉक्टर प्रदीप सोनी तथा पीडियाट्रिक से डॉक्टर किरण देवरस को परीक्षक के रूप में आमंत्रित किया गया था। इस परीक्षा का अंतर मूल्यांकन डॉक्टर अनिल गुप्ता, डॉ. ए के झा और डॉ. एस के दास सभी जिला अस्पताल बिलासपुर द्वारा किया गया। परीक्षा के लिए डॉ. मनोज जैसवाल को परीक्षा अधीक्षक नियुक्त किया गया था तथा डॉ. अजय तावडक कर पर्यवेक्षक के भूमिका में थे। डॉ. हेमंत चटर्जी तथा डॉक्टर प्रभात श्रीवास्तव ने केंद्र निरीक्षक के रूप में कार्य किया। इस कोर्स को डॉ.अतुल मनोहर राव देशकर डायरेक्टर स्टडीज के मार्गदर्शन में बिलासपुर में संचालित किया जा रहा है। परीक्षा के सफल आयोजन का श्रेय डॉक्टर राजीव क्षेत्रपाल मानद सचिव सी जी पी छत्तीसगढ़ शाखा को दिया जाता है। यह भी जानकारी प्राप्त हुई है कि 27 और 28 अक्टूबर को बिलासपुर में जनरल प्रैक्टिशनर का राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित किया जा रहा है। अध्यक्ष डॉ. हेमंत चटर्जी और डॉक्टर देवेंद्र सिंह तथा सचिव डॉक्टर अतुल मनोहर राव देश कर और डॉ. नितिन जुनेजा तथा एकेडमिक के मुख्य डॉ. अ वी जीत रायजादा और डॉक्टर अमित सोनी को खजांची की जिम्मेदारी सौंपी गई है। शहर के सचिव डॉ. आशीष मुंदड़ा तथा अध्यक्ष डॉ. आर डी गुप्ता और प्रदेश के अध्यक्ष डॉ. अशोक त्रिपाठी और सचिव डॉक्टर कौशलेंद्र ठाकुर विशेष कार्यकारिणी समिति में है। आयोजकों को विश्वास है कि ऐसे शैक्षणिक कार्यक्रमों से छत्तीसगढ़ के चिकित्सक का ध्यान संवर्धन और कौशल विकास को चलाने में मिलेगी।

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned