ओएचई ठीक करने गए 4 लाइनमैन झुलसे, एक गंभीर, अपोलो में भर्ती

ओएचई ठीक करने गए 4 लाइनमैन झुलसे, एक गंभीर, अपोलो में भर्ती

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 09 2018 05:02:16 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

हादसा: बंदर ने तोड़ा खोंगसरा स्टेशन के समीप डाउन लाइन का तार

बिलासपुर. अनूपपुर रेलखंड खोंगसरा रेलवे स्टेशन के समीप शनिवार सुबह 9 बजे यार्ड के डाउन लाइन पर ओएचई तार टूटकर गिर गया। यह घटना बंदर के कूदने से हुई। तार की मरम्मत कार्य के लिए पहुंचे टेक्नीशियन और उसके सहयोगी करंट से झुलस गए। उन्हें अपोलो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। खोंगसरा से टेंगनमाड़ा रेलवे स्टेशन के बीच शनिवार सुबह 9 बजे बंदरों की कूदफांद में यार्ड का ओएचई तार टूटकर गिर गया। जानकारी मिलने पर सम्पर्कक्रांति सहित अन्य ट्रेनों को पेंड्रा व अन्य स्टेशनों में रोका गया। इधर ओएचई तार की मरम्मत के लिए पेंड्रारोड स्टाफ को टावर वैगन के साथ रवाना किया गया। मरम्मत कार्य के लिए खोंगसरा यार्ड लाइन नं. 4 व 5 में पावर ब्लॉक किया गया था। लेकिन सुधार कार्य के दौरान करीब 10.51 बजे मेन लाइन ज्वाइंट के दौरान तार में करंट आने से टेक्नीशियन ग्रेड-1 अशोक नागोराव, एमसीएम बीएल भारिया, एमसीएम गिरधारी लाल और नरेश मालवी झुलस गए। घायलों को उपचार के लिए उत्कल एक्सप्रेस (18478) से बिलासपुर के केंद्रीय हॉस्पिटल लाया गया। उनकी हालत को देखते हुए अपोलो रेफर कर दिया गया। अपोलो हॉस्पिटल में टेक्टनीशियन अशोक नागोराव की हालत गंभीर बताई जा रही है।

अप लाइन से रवाना की गई दो ट्रेनें, बाकी ट्रेनों को स्टेशन में किया गया नियंत्रित
डाउन लाइन में तार टूटने के बाद नवतनवा-दुर्ग एक्सप्रेस और कलिंग उत्कल एक्सप्रेस को अप लाइन से बिलासपुर तक लाया गया। वही पेंड्रारोड रेलवे स्टेशन में निजामुद्दीन संपर्कक्रांति एक्सप्रेस को नियंत्रित किया गया। दूसरी ट्रेनों को अनूपपुर व अन्य रेलवे स्टेशनों में नियंत्रित किया गया।

विभाग की बड़ी लापरवाही
खोंगसरा रेलवे स्टेशन के किलोमीटर नं. 783/16 में ओएचई तार टूटने की घटना हुई। पॉवर ब्लॉक लेने के बाद भी ओएचई तार में करंट कैसे प्रवाहित हुआ, इसकी जानकारी रेलवे के अधिकारियों को नहीं है।

डीआरएम पहुंचे मरीजों से मिलने अपोलो
घटना की जानकारी मिलने के बाद डीआरएम आर राजगोपाल घायलों से मिलने अपोलो हॉस्पिटल पहुंचे। साथ ही चिकित्सक से उनके उपचार की जानकारी ली।

ओएचई तार टूटने की घटना हुई है। इसमें कुछ कर्मचारी झुलस गए हैं। डीआरएम से बात हुई है। घटना किन कारणों से हुई, इसकी अभी जानकारी नहीं लग सकी है। डीआरएम ने जांच के आदेश दिए हैं।
सुनील सिंह सोइन, महाप्रबंधक एसईसीआर बिलासपुर

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned